प्रदोष व्रत 2020, कब करें प्रदोष व्रत 2020 में ?

0

प्रदोष व्रत 2020, प्रदोष व्रत कब है 2020 में?, कब करें प्रदोष व्रत?, कैसे करे प्रदोष व्रत?, प्रदोष व्रत का महत्व, प्रदोष व्रत करने के लाभ

प्रदोष व्रत में शिवजी जी की उपासना व पूजा की जाती है। हिन्दू धर्म के अनुसार यह व्रत बहुत ही महत्वपूर्ण एवं लाभकारी है।

यह  व्रत हिन्दू कैलेंडर के अनुसार त्रयोदशी के दिन किया जाता है।

प्रदोष व्रत करने की विधि

  •  प्रदोष व्रत करने के लिए त्रयोदशी वाले दिन प्रातः सूर्योदय से पूर्व उठकर स्नानादि से  निर्वित हो।
  • इस व्रत में व्रती का सफ़ेद कपड़े पहनना शुभ माना जाता है।
  • यह व्रत निराहार रखा जाता है।
  • सांयकाल के समय शिवालय जाये या फिर घर पर ही पूजास्थान पर बैठे।
  • भगवान शंकर का ध्यान करते हुए, व्रत कथा और आरती पढ़नी चाहिए।
  • भगवान शिव का दूध और जल से अभिषेक करें।
  • पूजा में शिवजी जी को फल, फूल, धतूरा, बिल्वपत्र और ऋतुफल अर्पित करें।
  • प्रदोष व्रत में अपने सामर्थ्य अनुसार किसी ब्राह्मण को भोजन करवाकर दान दक्षिणा देनी चाहिए।
  • इस व्रत में भोजन करना निषेध है।
  • फिर भी व्रति अपनी यथा शक्तिअनुसार संध्याकाल के पूजन के बाद सात्विक भोजन या फलाहार ले सकता है।

 प्रदोष व्रत करने के लाभ 

  • शास्त्रों में कहा गया है के इस व्रत को श्रद्धा भाव करने से अतिशीघ्र कार्यसिद्धि होकर अभीष्ट फल की प्राप्ति होती है।
  • इस व्रत को करने से जीवन के सभी कष्ट दूर होते है और सहस्त्र गोदान का पुण्य प्राप्त होता है।
  • प्रदोष व्रत को करने से शिवजी जी की विशेष कृपा प्राप्त होती है।
  • वैसे तो सभी प्रदोष व्रत फलदायी और शुभ है, पर हर प्रदोष व्रत का वार के हिसाब से अलग फल होता है।
  • सोम प्रदोष व्रत आरोग्य और आयु वृद्धि  प्रदान करता है।
  • शनि प्रदोष व्रत संतान प्राप्ति के लिए बहुत शुभ माना जाता है।
  • बुध प्रदोष व्रत सभी मनोकामनाओ को पूरा करने वाला होता है।

तो आइये जानते है इस वर्ष प्रदोष व्रत कब कब है। 

माह और पक्ष 

दिनांक 

दिन 

पौष शुक्ल पक्ष 8 जनवरी 2020 बुधवार
माघ कृष्ण पक्ष 22 जनवरी 2020 बुधवार
माघ शुक्ल पक्ष 7 फरवरी 2020 शुक्रवार
फाल्गुन कृष्ण पक्ष 20 फरवरी 2020 गुरुवार
फाल्गुन शुक्ल पक्ष 7 मार्च 2020 शनिवार
चैत्र कृष्ण पक्ष 21 मार्च 2020 शनिवार
चैत्र शुक्ल पक्ष 5 अप्रैल 2020 रविवार
वैशाख कृष्ण पक्ष 20 अप्रैल 2020 सोमवार
वैशाख शुक्ल पक्ष 5 मई 2020 मंगलवार
ज्येष्ठ कृष्ण पक्ष 20 मई 2020 बुधवार
ज्येष्ठ शुक्ल पक्ष 3 जून 2020 बुधवार
आषाढ़ कृष्ण पक्ष 18 जून 2020 शनिवार
आषाढ़ शुक्ल पक्ष 2 जुलाई 2020 गुरुवार
श्रावण कृष्ण पक्ष 18 जुलाई 2020 शनिवार
श्रावण शुक्ल पक्ष 1 अगस्त 2020 शनिवार
भाद्रपद कृष्ण पक्ष 16 अगस्त 2020 रविवार
भाद्रपद शुक्ल पक्ष 30 अगस्त 2020 रविवार
शुद्ध आश्विन कृष्ण पक्ष 15 सितम्बर 2020 मंगलवार
अधिक आश्विन शुक्ल पक्ष 29 सितम्बर 2020 मंगलवार
अधिक आश्विन कृष्ण पक्ष 14 अक्टूबर 2020 बुधवार
शुद्ध आश्विन शुक्ल पक्ष 28 अक्टूबर 2020 बुधवार