Take a fresh look at your lifestyle.

रामनवमी 2020 कब है?

Ram Navami 2020  – चैत्र मास के शुल्क पक्ष के नवमी के दिन राम नवमी होती है। पुराणों के अनुसार भगवान् श्री राम का जन्म आज के ही दिन हुआ था। त्रेता युग में भगवान् श्री राम का जन्म हुआ था। जिन्होंने असुरों का नाश किया था। भगवान् श्री विष्णु का यह सातवा अवतार माना जाता है।

चैत्र मास के शुक्ल पक्ष की नवमी राम नवमी कहलाती है। 

भगवान श्री राम का जन्म  जगत कलयाण हेतु  हुआ था। मर्यदा पुरुषोतम श्री राम में त्रेता युग में रावण का वध करके धर्म को पुनः स्थापित किया था। चैत्र नवरात्री का यह अंतिम दिन होता है। तो आइए जानते है कब है २०२० में रामनवमी। राम नवमी का शुभ मुहूर्त, शुभ समय और महत्त्व।

भगवान् श्री राम के  जन्म का उद्देश्य 

त्रेता युग में भगवान् श्री राम का जन्म हुआ और उनका उद्देशय एक कल्याणकारी समाज, को स्थापित करना था।  वह पुरुषों में सर्वश्रेष्ठ कहलाए अर्थार्थ पुरुषोतम कहलाए। उन्होंने असुरों का नाश किया। धर्म पर जीत पाई और समाज को यही सन्देश दिया की यदि अधर्म  कितना ही बड़ा  और बलवान क्यों  न हो पर जीत सदैव सत्य और अच्छाई  की ही होती हैं।

अधर्म पर सत्य की जीत का सन्देश 

आज के दिन भगवान् श्री राम का व्रत किया जाता है। माता सीता और श्री राम जी की प्रतिमा राखी जाती है। सुबह नहाधोकर साफ़ वस्त्र पहनकर यह व्रत किया जाता है। कई घरो में आज के दिन रामचरित्र मानस का पाठ किया जाता है। कई मंदिरों में रामायण का भी पाठ होता है।  भगवान् श्री राम को झूला झुलाया जाता है।

माता दुर्गा की विदाई

चैत्र माह में माता दुर्गा के व्रत होते है जिन्हे भली भांति सब जानते है नवरात्र के नाम से। और सब लोग हिन्दू धर्म में, बंगाली , पंजाबी और अनेकों धर्म को मानने वाले भी इन नवरत्रों में माता की पूजा और आराधना पूरे भक्ति भाव से करते है।

चैत्र माह के नवरात्र का नौवां दिन 

किन्तु जब यह व्रत पूरे हो जाते है तब माता को राम नवमी के दिन ही विदा कर  दिया जाता है। और उनसे यही प्राथना की जाती है की हर वर्ष इसी प्रकार माता अपना आशीर्वाद और कृपा सब पर बने रखे।  और सब के जीवन में सुख समृद्धि सदैव बनी रहे।

राम नवमी तिथि और वार कब है?

राम नवमी 2020  की तिथि – 2 अप्रैल, गुरूवार, 2020रामनवमी का 

राम नवमी का समय कब तक है?

राम नवमी 2020  – दोपहर 3 बजकर 39 मिनट से ( 2 अप्रैल 2020)

राम नवमी का समाप्ति समय कब तक  है?

राम नवमी समाप्त  – दोपहर 2 बजकर 42 मिनट तक( 3 अप्रैल 2020)

राम नवमी का शुभ पूजा मुहूर्त कब तक है?

राम नवमी  2020 मुहूर्त – सुबह 11 बजकर 10 मिनट से 1 बजकर 38  मिनट तक 3 अप्रैल 2020

रामनवमी ध्वजारोहण  कब है ?

ध्वजारोहण  का समय – दोपहर 3 बजकर 39 मिनट से ( 2 अप्रैल 2020) से दोपहर 2 बजकर 42 मिनट तक( 3 अप्रैल 2020)