Take a fresh look at your lifestyle.

गुरु पुष्य योग 2019, Guru Pushya Amrit Shubh Muhurat 2019 Date

गुरु पुष्य योग 2019

2019 Guru Pushya Yoga, Auspicious Time on Thursdays 2019, Guru Pushya Amrit Yog Date 2019, गुरु पुष्य योग 2019, Guru pushya nakshatra 2018 date, गुरु पुष्य नक्षत्र, गुरु पुष्य अमृत योग मुहूर्त 2019, Guru Pushya, Guru Pushya Muhurat 2019


गुरु पुष्य योग क्या है?

जिस तरह सभी जानवरों में सिंह (शेर) सबसे अधिक शक्तिशाली होता है, उसी प्रकार सभी नक्षत्रों में बलवान (राजा) पुष्य नक्षत्र होता है। जो व्यक्ति के सभी प्रकार के दोषों को दूर करता है। गोचर में चौथे, आठवें, बाहरवे स्थान पर चंद्रमा होने पर भी पुष्य नक्षत्र कार्यों को सिद्ध करता है। जिसके लिए संस्कृत में एक विशेष श्लोक दिया गया है –

“ग्रहेण बिजोऽथाशु-भान्वितोऽपि। करोत्यवश्यंसकलार्थ सिद्धि विहाय पाणिग्रहणं पुष्यः।।

अर्थात – पुष्य नक्षत्र ग्रहविद्ध होने या पाप ग्रह युक्त होने और तारा के प्रतिकूल होने पर भी सम्पूर्ण कार्यों को सिद्ध करता है, केवल विवाह को छोड़कर।

ऐसे में पुष्य अमृत योग सोने पर सुहागा के रूप में कार्य करता है। जब गुरुवार या रविवार को पुष्य नक्षत्र पड़ता है तो उसे गुरु पुष्य अमृत योग कहा जाता है। जिसमे ‘रवि पुष्य’ तंत्र-मंत्र की सिद्धि एवं जड़ी-बूटी ग्रहण करने में तथा “गुरु-पुष्य” व्यापारिक एवं आर्थिक लाभ के कामों में विशेष रूप से उपयोगी होता है। शुक्रवार को पुष्य उत्पात योग होने के कारण सभी कार्यों में वर्जित है। यहाँ हम 2019 गुरु पुष्य योग की तिथि दे रहे हैं। 

किन कार्यों के लिए शुभ होता है गुरु पुष्य अमृत योग?

गुरु पुष्य योग बहुत शुभ और लाभकारी होता है इसलिए इसे गुरु पुष्य अमृत योग भी कहा जाता है। गुरु पुष्य अमृत योग में निम्नलिखित कार्यों को करना अत्यंत शुभ माना जाता है –

  • किसी नई बिल्डिंग / इमारत की नींव रखने के लिए
  • अपने गुरु, दादा या पिता से किसी तरह का ज्ञान या मंत्र-तंत्र सीखना।
  • नई दुकान या मकान का उद्घाटन करना।
  • यह मुहूर्त सोना या कोई आभूषण खरीदने के लिए बहुत शुभ माना जाता है।
  • नया घर खरीदना।
  • नए घर में शिफ्ट करना।
  • किसी बड़े कॉन्ट्रैक्ट या डील को साइन करना।
  • note : विवाह के लिए इस योग को शुभ नहीं माना जाता!

गुरु पुष्य अमृत मुहूर्त 2019 : Guru Pushya Yoga 2019

तारीखदिनघं. मि सेघं. मि. तक
20 जनवरी 2019रविवार29:22+30:48+
21 जनवरी 2019सोमवार06:4826:27+
17 फरवरी 2019रविवार16:4630:35+
18 फरवरी 2019सोमवार06:3414:02
16 मार्च 2019शनिवार26:13+30:10+
17 मार्च 2019रविवार06:0924:12+
13 अप्रैल 2019शनिवार08:5929:41+
14 अप्रैल 2019रविवार05:4007:40
10 मई 2019शुक्रवार14:2129:19+
11 मई 2019शनिवार05:1913:13
6 जून 2019गुरुवार20:2829:10+
7 जून 2019शुक्रवार05:1018:56
3 जुलाई 2019बुधवार28:39+29:15+
4 जुलाई 2019गुरुवार05:1526:30+
31 जुलाई 2019बुधवार14:4129:27+
1 अगस्त 2019गुरुवार05:2812:12
27 अगस्त 2019मंगलवार25:13+29:39+
28 अगस्त 2019बुधवार05:40
22:55
24 सितंबर 2019मंगलवार10:3126:50+
25 सितंबर 2019बुधवार05:5008:53
21 अक्टूबर 2019सोमवार07:3230:02+
22 अक्टूबर 2019मंगलवार06:0316:39
17 नवंबर 2019रविवार22:5930:19+
18 नवंबर 2019सोमवार06:2022:21
14 दिसंबर 2019शनिवार29:03+30:38+
15 दिसंबर 2019रविवार06:3928:01+