Ultimate magazine theme for WordPress.

Akshaya Tritiya 2019 : अक्षय तृतीया पर सोना खरीदने का शुभ समय और पूजा मुहूर्त

अक्षय तृतीया 2019 मुहूर्त

Akshaya Tritiya 2019 Date & Muhurat, अक्षय तृतीया 2019, अक्षय तृतीया पर्व तिथि व मुहूर्त, 2019 Akshaya Tritiya, Akha Teej Date and Time, Akshaya Tritiya 2019 muhurat, Akshaya Tritiya 2019 Marriage, अक्षय तृतीया 2019 के शुभ मुहूर्त, अक्षय तृतीया पूजा मुहूर्त, आखातीज का महत्व, आखातीज 2019 मुहूर्त


अक्षय तृतीया 2019

Akshaya Tritiya 2019 : वैशाख के शुक्ल पक्ष की तृतीया को अक्षय तृतीया का पर्व मनाया जाता है। जिसे आखातीज भी कहा जाता है।

शास्त्रों के अनुसार, इस दिन बिना पंचांग या शुभ मुहूर्त देखे हर प्रकार के मांगलिक कार्य जैसे विवाह, सगाई, गृह प्रवेश, वस्त्र आभूषण आदि की खरीदारी, जमीन या वाहन खरीदना आदि को बेहिचक कर सकते है। पुराणों में इस दिन पितरों का तर्पण, पिंडदान या अन्य किसी भी तरह का दान अक्षय फल प्रदान करता है। इस दिन गंगा स्नान करना भी शुभ होता है। इतना ही नहीं अक्षय तृतीया पर किये जाने वाले जप, तप, हवन, दान और पुण्य कार्य भी अक्षय हो जाते है।

अक्षय तृतीया क्या है?

शास्त्रों के अनुसार, अक्षय पुण्य तिथि को भगवान श्री ब्रह्मर्षि परशुराम जी का अवतार हुआ था। अक्षय तृतीया युगादि तिथि होने के कारण भी इसे शुभ माना जाता है।

अक्षय तृतीया 2019

2019 में अक्षय तृतीया 7 मई 2019, मंगलवार को है।

अक्षय तृतीया शुभ मुहूर्त

जिसमे मंगलवार को सूर्योदय से लेकर 26:17 बजे तक तृतीया तिथि व्याप्त रहेगी। इस दिन रोहिणी नक्षत्र सूर्योदय से 16:27 बजे तक रहेगा। उसके बाद मृगशिरा नक्षत्र प्रारंभ होगा। व्यापारादि कार्यों के लिए रोहिणी नक्षत्र को शुभ माना जाता है। उदय काल से लेकर 23:22 बजे तक अतिगण्ड योग व्याप्त रहेगा।

इस दिन व्यापारीजनों को अपनी परंपरा के अनुसार, स्थिर लग्न ‘वृष’ प्रातः 05:49 बजे से लेकर 07:46 बजे तक रहेगी। इसमें चतुर्थेश सूर्य, द्वितीयेश और पंचमेश बुध के साथ द्वादश भाव में है। व्यापारेश व् द्वादश मंगल लग्न में चंद्र के साथ है, यह व्यापार में शुभ होता है।

वृष लग्न के लिए शनि नवम और दशम होकर केंद्र-त्रिकोण संबंध बनाता है और यह अष्टम भाव में धनु राशि में बैठा है और यह एक शुभ सूचक है। ऐसा होने पर राजयोग बनता है। द्वितीय भाव में मिथुन का राहु व् अष्टम भाव में धनु का केतु शुभ योग बनाता है। एकादश में मीन का शुक्र शुभ है। अतः वृष लग्न में पूजन करने के लिए सूर्य-गुरु, का दान उपाय करना बहुत उत्तम रहेगा।

स्थिर लग्न मुहूर्त

दूसरा स्थिर लग्न सिंह 12:17 बजे से लेकर 14:31 तक रहेगा। इसमें लग्नेश सूर्य, द्वितीयेश और एकादश बुध के साथ नवम भाव में है। चतुर्थी और नवम मंगल दशम भाव में चंद्र के साथ है, यह व्यापार में अति शुभ है।

सिंह लग्न के लिए मंगल नवमेश व् चतुर्थेश होकर केंद्र-त्रिकोण संबंध बनाता है और यह दशम भाव में वृष राष पर बैठा है, यह एक शुभसूचक है। यह राजयोग बनाता है। एकादश भाव में मिथुन का राहु शुभ है। पंचम भाव में धनु का केतु अशुभ योग बनाता है। अतः सिंह लग्न में पूजा करने के लिए केतु-शनि का दान उपाय कर लेना उत्तम रहेगा।

अक्षय तृतीया पर चौघड़िया मुहूर्त

चौघड़िया मुहूर्त के विचार से लाभ-अमृत चौघड़िया की संयुक्त बेला 08:38 बजे से 13:34 बजे तक रहेगी। शुभ चौघड़िया की बेला 15:12 बजे से 16:51 तक होगी।


अक्षय तृतीया 2019

अक्षय तृतीया पूजा मुहूर्त = सुबह 05:40 से दोपहर 12:17 बजे तक।
मुहूर्त की अवधि = 6 घंटे 37 मिनट

तृतीया तिथि का आरंभ = 7 मई 2019, मंगलवार रात 03:17 बजे।
तृतीया तिथि समाप्त = 8 मई 2019, बुधवार रात 02:17 बजे।


अक्षय तृतीया के दिन सोना खरीदने का शुभ मुहूर्त

सोना खरीदने का शुभ मुहूर्त

7 मई 2019, मंगलवार = प्रातः 03:17 बजे से 05:40 बजे तक।

अक्षय तृतीया चौघड़िया मुहूर्त प्रातः 03:17 से प्रातः 05:40 के बीच।

रात्रि मुहूर्त (शुभ, अमृत, चर) = प्रातः 03:17 से प्रातः 05:40 बजे।


7 मई 2019, मंगलवार को सोना खरीदने का शुभ मुहूर्त प्रातः05:40 से 26:17+ के बीच है।

05:40 से 26:17+ के बीच का चौघड़िया शुभ मुहूर्त

प्रातः मुहूर्त (चर, लाभ, अमृत) = 08:59 – 13:57
मध्याह्न मुहूर्त (शुभ) = 15:37 – 17:16
सायं मुहूर्त (लाभ) = 20:16 – 21:37
रात्रि मुहूर्त (शुभ, अमृत, चर) = 22:57 – 26:17+