Muhurat Panchang and Festivals

अक्टूबर 2021 में अमावस्या कब है? तिथि और मुहूर्त

0

अक्टूबर महीने में आश्विन माह चल रहा होता है ऐसे में हिन्दू धर्म के अनुसार आश्विन माह के कृष्ण पक्ष में आने वाली अमावस्या को आश्विन अमावस्या कहा जाता है। साथ ही आश्विन अमावस्या पितृ विसर्जनी अमावस्या भी कहा जाता है। और इस माह में आने वाली अमावस्या से पहले कृष्ण पक्ष में ही पितृ पक्ष प्रारम्भ होता है और अमावस्या के दिन इसका समापन होता है।

कृष्ण पक्ष के इन दिनों में सभी लोग अपने पूर्वजों बड़े बुजुर्गों के नाम का श्राद्ध करते हैं जिसमे वो उनके नाम का भोज तैयार करते हैं। आश्विन अमावस्या के दिन आखिरी श्राद्ध होता है साथ ही ऐसा माना जाता है की अमावस्या के दिन आपके पितृ अपनी जगह वापिस लौट जाते हैं और आपके परिवार को ढेरों आशीर्वाद देकर जाते हैं ताकि आपके जीवन में आने वाली मुसीबतों को दूर रहने में मदद मिले और आप हमेशा तरक्की करें।

आश्विन अमावस्या का महत्व

आश्विन अमावस्या को पितृ विसर्जनी अमावस्या भी कहा जाता है क्योंकि इस दौरान सभी लोग अपने पूर्वजों के नाम का श्राद्ध करते हैं ऐसे में इस अमावस्या के दिन पितरो के नाम पर दान धर्म का काम करना, हवन करना, ब्राह्मणों को भोजन करवाना बहुत शुभ माना जाता है। और इस दिन आप अपने सभी पितरों के नाम का श्राद्ध एक ही दिन कर सकते हैं।

यदि आप उनकी श्राद्ध तिथि पर करते हैं तो अच्छी बात है लेकिन यदि किसी कारण आपको उनकी श्राद्ध तिथि याद नहीं है तो आपको आश्विन अमावस्या के दिन उनका श्राद्ध जरूर करना चाहिए। आश्विन अमावस्या के दिन आप अपने सभी पितरों के नाम पर दान धर्म का काम करके उनका तर्पण कर सकते हैं। जिन लोगो को यह याद नहीं हो की नहीं हो की आपके पितरों का श्राद्ध कब है तो आप बिना किसी बात का ध्यान रखें आश्विन अमावस्या के दिन उनका श्राद्ध कर सकते हैं।

क्या करें आश्विन अमावस्या के दिन?

  • अमावस्या के दिन सुबह समय से उठ जाना चाहिए और स्नान आदि करके तैयार हो जाना चाहिए।
  • इस दिन किसी पवित्र नदी, तालाब, जलाशय, कुंड आदि में स्नान करना बहुत शुभ माना जाता है आपके आस पास यदि ऐसा हो तो आप नदी तालाब आदि में जाकर ही स्नान करें।
  • स्नान करने के बाद सूर्य देव को अर्ध्य जरूर देना चाहिए क्योंकि ऐसा करना बहुत शुभ माना जाता है।
  • पितृजन अमावस्या के दिन दान धर्म का काम जरूर करना चाहिए।
  • इस दिन अपने सभी पितरो के नाम पर किसी जरुरतमंद व्यक्ति की मदद करें या ब्राह्मण को भोजन जरूर करवाएं।

2021 आश्विन अमावस्या तिथि व मुहूर्त

आश्विन अमावस्या तिथि 2021: साल 2021 में आश्विन अमावस्या 06 अक्टूबर 2021 दिन बुधवार को है।

अमावस्या तिथि आरम्भ: अक्टूबर 5, 2021 दिन मंगलवार को 19:06:35 से अमावस्या तिथि आरम्भ होगी।

अमावस्या तिथि समापन: अक्टूबर 6, 2021 दिन बुधवार को 16:37:19 पर अमावस्या तिथि समाप्त होगी।

आश्विन अमावस्या की तिथि व मुहूर्त, आश्विन अमावस्या के दिन क्या करें और आश्विन अमावस्या के महत्व से जुडी जानकारी आपको ऊपर बताई गई है। साथ ही आश्विन अमावस्या के खत्म होने के अगले ही दिन से शरदीय नवरात्रि प्रारंभ होती है जो एक त्यौहार की तरह बहुत सी जगहों पर मनाई जाती है और इसी दिन घट स्थापना भी की जाती है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.