Take a fresh look at your lifestyle.

भाई दूज शुभ मुहूर्त 2018, भैया दूज टीका करने का शुभ समय

भाई दूज कब है? शुभ मुहूर्त भाई दूज 2018, भाई दूज का महत्व, टीका करने का समय, 2018 में भाई दूज कब है, भाई दूज कैसे मनाए, क्यों मनाई जाती है भाई दूज, भाई दूज पूजा शुभ मुहूर्त 2018, Bhai Dooj Date and Time 2018, Bhai Dooj Muhurat, Bhai Dooj Tika Muhurat 2018, Bhai Dooj timing and shubh muhurat fot tika in 2018


भाई दूज, यम द्वितीय, भौ बीज 2018 टीका करने का मुहूर्त

भाई दूज हिन्दू धर्म में मनाए जाने वाले पवित्र त्योहारों में से एक है जिसे पुरे देश में बड़े उत्साह के साथ मनाया जाता है। रक्षाबंधन के बाद ये दूसरा पर्व है जिसे भाई बहन के अटूट प्रेम को बनाए रखने के लिए मनाया जाता है। शास्त्रों में इसे यम द्वितीय के नाम से भी जाना जाता है। भाई दूज कार्तिक माह के शुक्ल पक्ष की द्वितीय तिथि को मनाया जाता है।

इस दिन बहन अपने भाई की तिलक लगाकर उसके उज्ज्वल भविष्य और लंबी उम्र की कामना करती है। जिसके बाद भाई अपनी बहन को उपहार या दक्षिणा देता है। दिवाली के दो दिन बाद मनाया जाने वाले इस पर्व का बहनों के लिए खास महत्व होता है।

भाई दूज कैसे मनाएं?

यह पर्व भाई-बहन के अटूट प्रेम और रिश्ते को बनाए रखने के लिए मनाया जाता है। जिसमे बहनें सुबह-सुबह स्नान आदि से निवृत होकर भगवान की पूजा करती है। शास्त्रो के मुताबिक इस दिन स्नान करके सबसे पहले भगवन विष्णु और श्री गणेश जी की पूजा करनी चाहिए, जिसका भाई दूज के दिन खास महत्व होता है। उसके पश्चात् अपने भाई को तिलक लगाना चाहिए। भाई को तिलक लगाने तक बहन को व्रत करना होता है।भाई दूज, यम द्वितीय, भौ बीज 2018 टीका करने का मुहूर्त

स्कंदपुराण के अनुसार इस दिन भाई का बहन के घर जाकर भोजन करना अत्यंत शुभ माना जाता है। अगर बहन की शादी नहीं हुई है तो इस दिन भाई को उसके हाथो से बना भोजन करना चाहिए। इसके अलावा अगर किसी भाई की सगी बहन नहीं है तो उसके चाचा, भाई, मामा आदि की पुत्री या पिता की बहन के घर जाकर भोजन कर सकते है।

भोजन करने के बाद भाई, बहन को गहने, वस्त्र, दक्षिणा आदि उपहार के रूप में देता है। इस दिन यमुना जी में स्नान करने का भी विशेष महत्व होता है। इसके अलावा भाई बहन का यमुत तट पर भोजन भी बहुत लाभकारी माना जाता है। मान्यता है, कार्तिक माह के शुक्लपक्ष की द्वितीय को जो भाई अपनी बहन का आतिथ्य स्वीकार करता है उसे यमराज का भय नहीं रहता। और उसकी आयु लंबी होती है।


भाई दूज (यम द्वितीय) 2018

2018 में भाई दूज 9 नवंबर 2018, शुक्रवार को है।

भाई दूज टीका करने का समय

भाई दूज के दिन टीका करने का मुहूर्त = 13:09 से 15:17
मुहूर्त की अवधि = 02 घंटे 08 मिनट

द्वितीय तिथि का आरंभ = 8 नवंबर 2018, गुरुवार 21:07 बजे। 
द्वितीय तिथि समाप्त = 9 नवंबर 2018, शुक्रवार 21:20 बजे।