Ultimate magazine theme for WordPress.

भूमि पूजन नींव पूजन गृह निर्माण मुहूर्त २०१८ के लिए

2018 भूमि पूजन गृह निर्माण मुहूर्त

Bhumi Pujan Muhurat 2018 : शुभतिथि डॉट कॉम पर आपके लिए गृह निर्माण शुभ मुहूर्त, भूमि पूजन मुहूर्त निकालने की सुविधा उपलब्ध है, आप 151 रूपए की सहयोग राशि देकर अपनी कुंडली और राशि के अनुसार मुहूर्त निकलवा सकते है। पूर्ण जानकारी आपको मेल पर भेज दी जाएगी। सहयोग और आपकी जानकारी किनके नाम से मुहूर्त निकालना है

भूमि पूजन, नीव पूजन, या शंखु स्थापना हिन्दू धर्म की ख़ास परंपराएँ है जिसे किसी भी नए भवन (घर, ऑफिस, बिल्डिंग आदि) के निर्माण से पूर्व किया जाता है। सामन्य तौर पर इसे भूमि पूजन या नींव खोदने के नाम से ही जाना जाता है। हिन्दू धर्म के अनुसार जब किसी स्थान पर नया घर बनाया जाता है तो उस घर को बनाने से पूर्व उस स्थान की भूमि का पूजन किया जाता है। अलग-अलग रीती रिवाजों के कारण इसकी विधि में थोडा बहुत परिवर्तन हो सकता है।

हिन्दू पंचांग के अनुसार नींव पूजन और भूमि पूजन हमेशा शुभ और उचित मुहूर्त में ही करवाना चाहिए। क्योंकि सही मुहूर्त में नींव पूजन करवाने से गृह निर्माण से जुड़े कार्यों में सब मंगल होता है। यहाँ हम आपको नींव पूजन करवाने के शुभ मुहूर्त के बारे में विस्तृत जानकारी दे रहे है। 2018 में भूमि पूजन या नींव रखने के शुभ मुहूर्त की गणना सभी नक्षत्रों और दुष्टमुहूर्त को ध्यान में रखकर की गई है।

2018 में गृहारंभ नींव पूजन शुभ मुहूर्त

मंदिर, जलाशय और घर बनाते समय नींव खोदते समय दिशा का विचार करना बहुत जरुरी होता है। घर बनवाना हो तो सिंह, कन्या और तुला के सूर्य में राहु का मुख ईशान-कोण में; वृश्चिक, धनु और मकर के सूर्य में राहु का मुख वायव्य-कोण में; कुंभ, मीन और मेष राशि के सूर्य में राहु का मुख नैऋत्यकोण में एवं वृष, मिथुन और कर्क राशि के सूर्य में राहु का मुख आग्नेय कोण में रहता है।

गृह निर्माण / भूमि पूजन मुहूर्त चक्र

Bhumi pujan muhurat kaise nikale: गृह निर्माण, भूमि पूजन और नींव पूजन के लिए शुभ मुहूर्त की गणना कैसे करें?

नक्षत्र मृगशिरा, पुष्य, अनुराधा, उत्तराफाल्गुनी, उत्तराभाद्रपद, उत्तराषाढ़, धनिष्ठा, शतभिषा, चित्रा, हस्त, रोहिणी, रेवती
वार सोमवार, बुधवार, बृहस्पतिवार, शुक्रवार, शनिवार
तिथि द्वितीया, तृतीया, पंचमी, सप्तमी, दशमी, एकादशी, त्रयोदशी, पूर्णिमा
माह वैशाख, श्रावण, माघ, पौष, फाल्गुन
लग्न द्वितीया, तृतीया, पंचमी, षष्ठी, अष्टमी, नवमी, एकादशी, द्वादशी
लग्न शुद्धि शुभ ग्रह लग्न से प्रथम, चतुर्थ, सप्तम, दशम, पंचम, नवम स्थानों में एवं पापग्रह तृतीया, षष्ठम, एकादश स्थानों में शुभ होते है। अष्टम, द्वादश स्थान में कोई गृह नहीं होना चाहिए।

गृह निर्माण मुहूर्त 2018

तारीख दिन नक्षत्र तिथि

सितंबर 2018 गृह निर्माण मुहूर्त

19 सितंबर 2018 बुधवार पूर्वाषाढ़ दशमी
20 सितंबर 2018 गुरुवार उत्तराषाढ़ एकादशी

अक्टूबर 2018 गृह निर्माण मुहूर्त

27 अक्टूबर 2018 शनिवार कृतिका तृतीया

नवंबर 2018 गृह निर्माण मुहूर्त

8 नवंबर 2018 गुरुवार विशाखा प्रतिपदा
9 नवंबर 2018 शुक्रवार अनुराधा द्वितीया
24 नवंबर 2018 शनिवार रोहिणी प्रतिपदा

दिसंबर 2018 गृह निर्माण मुहूर्त

13 दिसंबर 2018 गुरुवार शतभिषा षष्ठी
14 दिसंबर 2018 शुक्रवार शतभिषा सप्तमी
17 दिसंबर 2018 सोमवार रेवती नवमी

शुभ मुहुर्त में शुरू किया गया गृह निर्माण / नींव पूजा / भूमि पूजन नए घर में खुशियां लाता है और भाग्योदय होता है, इसलिए अपनी कुंडली और जन्मतिथि के अनुसार ही गृह निर्माण शुरू करें। आप अपने शहर/गाँव, नाम, राशि के अनुसार ही मुहूर्त निकलवायें। 

गृह निर्माण / नींव पूजा / भूमि पूजन का मुहूर्त हमेशा गृह स्वामी के नाम व् जन्मतिथि के अनुसार निकाला जाता है। अगर आप भी गृह निर्माण / नींव पूजा के लिए शुभ मुहूर्त निकलवाना चाहते हैं, तो नीचे दिए गए पेमेंट बटन पर क्लिक कर अपने लिए शुभ मुहुर्त लें सकते हैं। सहयोग करने के लिए कृपया ₹151 का डोनेशन करें। मुहूर्त जल्द ही आपके ईमेल पर भेजा जाएगा। पेमेंट के बाद अपनी सभी डिटेल्स फॉर्म में भरें, जो पेमेंट के बाद ओपन होगा।