Ultimate magazine theme for WordPress.

भूमि पूजन 2019, नींव पूजन मुहूर्त 2019 के लिए, गृहारंभ मुहूर्त २०१९

Construction Muhurat in 2019, Bhumi Pujan Date, Bhumi Pujan Muhurat, नींव पूजन करने का शुभ मुहूर्त 2019 में, नींव खोदने का मुहूर्त 2019, 2019 गृह निर्माण, 2019 में गृह निर्माण, नया घर बनाने का मुहूर्त

गृह निर्माण मुहूर्त 2019

गृह निर्माण, नींव पूजा, भूमि पूजन

नींव पूजा क्या है?

किसी भी नए मकान को बनवाने से पूर्व उस भूमि, उस स्थान की पूजा की जाती है। इसी पूजा को भूमि पूजन, नींव पूजन कहते हैं। मकान बनाने से पूर्व नींव पूजा की जाती है और उसके बाद निर्माण कार्य आरंभ होता है।

भूमि पूजन शुभ मुहूर्त में क्यों करते हैं?

शास्त्रों के अनुसार, नए घर से जुड़े प्रत्येक कार्य को शुभ मुहूर्त में करना अनिवार्य होता है। फिर चाहे वो गृह प्रवेश हो या भूमि पूजन। घर बनाने से पहले की जाने वाली पूजा को भूमि पूजन कहते हैं। इस पूजा को सदैव शुभ नक्षत्र तिथि वार में करना चाहिए। शुभ मुहूर्त में नींव पूजा करने से नए घर में बरकत होती है और परिवार में खुशियां आती हैं।

कौन से महीनों में भूमि पूजन किया जाता है?

मुहूर्त चक्र के अनुसार, वैशाख, सावन, कार्तिक, मार्गशीर्ष, माघ, पौष और फाल्गुन माह में भूमि पूजन किया जा सकता है। नए मकान की नींव पूजन के लिए ये महीने सबसे शुभ हैं।

नींव पूजन की तिथि और वार क्या होना चाहिए?

भूमि पूजन के लिए द्वितीया, तृतीया, पंचमी, सप्तमी, दशमी, एकादशी, त्रयोदशी और पूर्णिमा आदि तिथियां शुभ होती है। सोमवार, बुधवार, गुरुवार, शुक्रवार और शनिवार के दिन नींव पूजन कराना शुभ होता है।

किस नक्षत्र में भूमि पूजन करें?

मुहूर्त चक्र के अनुसार, मृगशिरा, पुष्य, अनुराधा, उत्तराफाल्गुनी, उत्तराभाद्रपद, उत्तराषाढ़, धनिष्ठा, शतभिषा, चित्रा, हस्त, रोहिणी और रेवती नक्षत्र में भूमि पूजन किया जा सकता है।

भूमि पूजन और नींव पूजा कब नहीं करनी चाहिए?

गृह प्रवेश की भांति नींव पूजन भी कुछ खास दिनों में करना वर्जित होता है। शुभ मुहूर्त के साथ-साथ कुछ ऐसी तिथियां भी होती हैं जिनमे नींव पूजन कराना शुभ नहीं होता। इन दिनों में भूलकर भी भूमि पूजन नहीं करना चाहिए।

  • अधिक मास (वर्ष में एक मास अधिक होने पर)
  • मलमास या खरमास (सूर्य जब धनु और मीन राशि में जाता है)
  • चातुर्मास (चार महीने की अवधि जब देव सो जाते हैं)
  • श्राद्ध पक्ष (पितरों के लिए)
  • पंचक (पांच अशुभ नक्षत्र)
  • दक्षिणायन (सूर्य जब दक्षिण दिशा की ओर होता है)
  • होलाष्टक आदि दिनों में गृह प्रवेश नहीं करना चाहिए।

भूमि पूजन मुहूर्त चक्र

घर बनाने का आरंभ करने के लिए सूर्य के नक्षत्र से सात नक्षत्र अशुभ, आगे के ग्यारह नक्षत्र शुभ और इससे आगे के दस नक्षत्र अशुभ माने गए है। इसीलिए सही और उचित नक्षत्र में ही गृहारंभ करें।

नक्षत्रमृगशिरा, पुष्य, अनुराधा, उत्तराफाल्गुनी, उत्तराभाद्रपद, उत्तराषाढ़, धनिष्ठा, शतभिषा, चित्रा, हस्त, रोहिणी, रेवती
वारसोमवार, बुधवार, बृहस्पतिवार, शुक्रवार, शनिवार
तिथिद्वितीया, तृतीया, पंचमी, सप्तमी, दशमी, एकादशी, त्रयोदशी, पूर्णिमा
माहवैशाख, श्रावण, माघ, पौष, फाल्गुन
लग्नद्वितीया, तृतीया, पंचमी, षष्ठी, अष्टमी, नवमी, एकादशी, द्वादशी
लग्न शुद्धि शुभ ग्रह लग्न से प्रथम, चतुर्थ, सप्तम, दशम, पंचम, नवम स्थानों में एवं पापग्रह तृतीया, षष्ठम, एकादश स्थानों में शुभ होते है।
अष्टम, द्वादश स्थान में कोई ग्रह नहीं होना चाहिए।

भूमि पूजन, नींव पूजन, गृह निर्माण का शुभ मुहूर्त कौन-कौन से हैं?

तारीखदिननक्षत्रतिथि
17 अप्रैल 2019बुधवारउत्तराफाल्गुनीत्रयोदशी
19 अप्रैल 2019शुक्रवारचित्रापूर्णिमा
20 अप्रैल 2019शनिवारस्वातीप्रतिपदा
26 अप्रैल 2019शुक्रवारउत्तराषाढ़सप्तमी
29 अप्रैल 2019सोमवारशतभिषादशमी
30 अप्रैल 2019मंगलवारशतभिषाएकादशी
11 मई 2019शनिवारपुष्यसप्तमी
16 मई 2019गुरुवारहस्त, चित्राद्वादशी
23 मई 2019गुरुवारउत्तराषाढ़पंचमी
27 मई 2019सोमवारशतभिषाअष्टमी
29 मई 2019बुधवारउत्तराभाद्रपददशमी
30 मई 2019गुरुवाररेवतीएकादशी
31 मई 2019शुक्रवारअश्विनद्वादशी
4 जून 2019मंगलवारमृगशिराप्रतिपदा
7 जून 2019शुक्रवारपुष्यचतुर्थी
10 जून 2019सोमवारउत्तराफाल्गुनीअष्टमी
12 जून 2019बुधवारहस्तदशमी
14 जून 2019शुक्रवारस्वातीद्वादशी
23 जून 2019रविवारषष्ठीशतभिषा
9 अक्टूबर 2019बुधवारधनिष्ठाएकादशी
18 अक्टूबर 2019शुक्रवाररोहिणीचतुर्थी
19 अक्टूबर 2019शनिवारमृगशिरापंचमी
25 अक्टूबर 2019शुक्रवारउत्तराफाल्गुनीद्वादशी
26 अक्टूबर 2019शनिवारउत्तराफाल्गुनीत्रयोदशी
30 अक्टूबर 2019बुधवारअनुराधातृतीया
6 नवंबर 2019बुधवारधनिष्ठा, शतभिषानवमी
9 नवंबर 2019शनिवारउत्तराभाद्रपदद्वादशी
14 नवंबर 2019गुरुवाररोहिणीद्वितीया
15 नवंबर 2019शुक्रवारमृगशिरातृतीया
18 नवंबर 2019सोमवारपुष्यषष्ठी
23 नवंबर 2019शनिवारहस्त, चित्राद्वादशी
27 नवंबर 2019बुधवारअनुराधाप्रतिपदा
2 दिसंबर 2019सोमवारधनिष्ठाषष्ठी
4 दिसंबर 2019बुधवारशतभिषाअष्टमी
12 दिसंबर 2019गुरुवारमृगशिरापूर्णिमा

अगर आप नींव पूजा सही नक्षत्र तिथि वार को करेंगे तो नए घर में सुख-समृद्धि बनी रहेगी और परिवार में खुशियां आएंगी। गलत मुहूर्त में गृह निर्माण करवाने से आपको परेशानी हो सकती है।

गृह निर्माण का शुभ मुहूर्त निकलवाने के लिए नीचे दिए गए पे बटन पर क्लिक करें। हम आपके अनुसार गृह निर्माण, भूमि पूजन, नींव पूजन का शुभ मुहूर्त निकालकर देंगे मात्र 251 रुपए के डोनेशन पर।

गृह निर्माण नींव पूजन भूमि पूजन का मुहूर्त निकलवाने के लिए यहाँ क्लिक करें