Ultimate magazine theme for WordPress.

बृहस्पति कमजोर है तो यह है उपाय

बृहस्पति कमजोर है तो यह हैं उपाय

ज्योतिष के अनुसार नवग्रहों में गुरु की बहुत ही अहम भूमिका होती है, क्योंकि यदि किसी जातक की कुंडली में गुरु की स्थिति मजबूत होती है। तो इससे जिंदगी में सकारात्मकता बनी रहती है, सफलता कदम चूमने लगती है, हर परेशानी का हल संभव होने लगता है, आदि। साथ ही गुरु के मजबूत होने के कारण व्यक्ति का आत्मविश्वास भी मजबूत होता है, जिससे कठिन से कठिन परिस्थिति में भी व्यक्ति हिम्मत नहीं हारता है। और यही साहस और सकारात्मकता व्यक्ति को हमेशा सफलता और खुशहाल रहने में मदद करती है। यदि किसी जातक की कुंडली में गुरु की स्थिति बेहतर न हो तो इससे व्यक्ति को परेशानियों का सामना भी करना पड़ सकता है, जैसे की पैसे की कमी, किसी काम का सफलता न मिलना, घर से जुडी समस्या, स्वास्थ्य सम्बन्धी परेशानी, आदि। तो लीजिये आज हम आपको कुछ ऐसे उपाय बताने जा रहे हैं जो आपकी कुंडली में कमजोर बृहस्पति की स्थिति को मजबूत बनाने में मदद करते हैं।

वीरवार का व्रत

गुरु को प्रसन्न करने के लिए वीरवार का व्रत करना सबसे आसान और सरल उपाय में से एक होता है। इस दिन भगवान विष्णु और माँ लक्ष्मी की पूजा अर्चना की जाती है, साथ ही पूरा दिन उपवास रखना होता है। वीरवार के व्रत में पीले रंग का बहुत महत्व होता है, इस दिन पीले रंग का वस्त्र पहनना, पीला खाना खाना, शुभ माना जाता है। साथ ही व्रत के दिन बृहस्पति की कथा भी पड़नी चाहिए, जो भी व्यक्ति इस व्रत को पूरी श्रद्धा के साथ करता है उसे गुरु को प्रसन्न को करने में मदद मिलती है।

केले के पेड़ की पूजा

वीरवार के दिन केले के पेड़ की पूजा का भी बहुत महत्व होता है, इस दिन केले के पेड़ की पूजा करने और पीले रंग की वस्तुएं केले के पेड़ पर चढाने से गुरु को प्रसन्न करने में मदद मिलती है, जल में हल्दी जरूर मिलाएं इससे बहुत जल्दी गुरु प्रसन्न होते है।

दान करें

पीला रंग गुरु का सूचक होता है ऐसे में गुरु को प्रसन्न करने के लिए वीरवार के दिन पीली चीजों का दान करना बहुत ही शुभ माना जाता है। जैसे की चने की दाल, पीले लड्डू, पीले फूल हल्दी, ताजे फल, पीला कपड़ा, ताम्बा आदि, खासकर गरीबो को पीली वस्तुओं का दान करें।

ब्रह्मा जी की पूजा करें

गुरु को प्रसन्न करने का एक और आसान उपाय है यदि आप ब्रह्मा जी की पूजा करते हैं तो इससे गुरु को प्रसन्न करने में मदद मिलती है।

जाप करें

ॐ बृं बृहस्पते नम:, यह गुरु का मन्त्र है रोजाना या खासकर वीरवार के दिन 108 बार पूरी श्रद्धा के साथ इस मन्त्र का जाप करें, इससे भी गुरु की स्थिति को मजबूत करने में मदद मिलती है।

शिवजी को भोग लगाएं

भोलेबाबा को यदि आप बेसन के लड्डू का भोग लगाते है तो इससे भी बृहस्पति को खुश करने में मदद मिलती है।

बरगद के पेड़ की पूजा

हर वीरवार को बरगद के पेड़ पर कच्चे दूध में हल्दी को मिलाकर चढ़ाएं इससे भी गुरु को खुश करने में मदद मिलती है।

तो यह हैं कुछ टिप्स जिनका इस्तेमाल करने से कुंडली में कमजोर बृहस्पति को मजबूत करने में मदद मिलती है। यदि आपकी राशि में भी गुरु कमजोर है तो आप भी इन टिप्स का इस्तेमाल करके आसानी से गुरु को प्रसन्न कर सकते है, और गुरु की कृपा होने के कारण सभी परेशानियों का आसानी से समाधान भी कर सकते हैं।