धन-समृद्धि पाने के ये हैं पांच अचूक उपाय

0

धन पाने के उपाय

वर्तमान में धन एक ऐसी आवश्यकता है जो कभी पूरी नहीं होती। बहुत धन होने के बाद भी कमी लगती है। हमेशा यही लगता है की थोड़ा पैसा और होना चाहिए। इसके विपरीत कुछ लोग ऐसे होते हैं जो कितनी ही मेहनत क्यों ना कर लें, कमाई बहुत कम होती है। इन सब का कारण ग्रहों की विपरीत दिशा या आपकी मेहनत में कमी हो सकती है। अगर आप भरपूर मेहनत करते हैं और उसके बावजूद भी ठीक से कमाई नहीं हो पा रही है। तो आपको धन पाने के विशेष उपाय करने होंगे।

हर कोई ज्यादा से ज्यादा धन पाना चाहता है। लेकिन धन पाने के लिए चाह से ज्यादा मेहनत करनी होती है। मेहनत के बिना कुछ भी संभव नहीं है। इसके साथ-साथ आपको कुछ ज्योतिषीय उपाय भी करने होंगे ताकि ग्रहों की स्थिति का भी शुभ प्रभाव मिलें। यहाँ हम धन-समृद्धि पाने के कुछ उपाय बता रहे हैं।

धन-समृद्धि पाने के अचूक उपाय

अधिक खर्च होने पर

बार-बार परिश्रम करने के बाद भी कारोबार में वृद्धि नहीं हो रही हो और धन आने पर भी खर्च हो जाए तो ये उपाय धन प्राप्ति के लिए लाभदायक होगा। किसी गुरु पुष्य योग और शुभ चंद्रमा के दिन सुबह हरे रंग के कपडे की थोड़ी थैली बना लें। अब श्री गणेश के चित्र और मूर्ति के आगे ‘संकट नाशक गणेश स्तोत्र’ के 11 पाठ करें। इसके बाद थैली में 7 मूंग, 10 ग्राम साबुत धनिया, एक पंचमुखी रुद्राक्ष, एक चांदी का रुपया या 2 सुपारी, 2 हल्दी की गांठ रख कर दाहिने मुख के गणेश जी को शुद्ध घी के मोदक का भोग लगाएं। उसके बाद थैली को तिजोरी या कैश बॉक्स में रख दें। गरीबों और ब्राह्मणों में दान दें। 1 साल बाद नई थैली बनाकर बदल दें। जल्द ही धन-संपदा में वृद्धि होने लगेगी।

पैसा नहीं रुकना

बहुत से लोगों को कहते हुए सुना होगा की घर में कमाई तो बहुत है लेकिन पैसा रुकता नहीं है। पैसा तुरंत आते ही खर्च हो जाता है। ऐसे में इस उपाय का इस्तेमाल करके धन जोड़ सकते हैं। इसके लिए जब आप आटा पिसवाने जाते हैं तो पहले थोड़े से गेहूं में 11 तुलसी के पत्ते और 2 केसर के दाने डालकर मिला लें। अब इसको बाकी गेहूं में मिला कर पिसवा लें। आटा हमेशा सोमवार और शनिवार को पिसवाएं। धीरे-धीरे धन का खर्च कम हो जाएगा और पैसा जुड़ने लगेगा।

धन के लिए

धन प्राप्ति के लिए रविवार के दिन पुष्य नक्षत्र हो तब गूलर के पेड़ की जड़ घर में लाएं। इसे धूप, दीप दिखाकर धन रखने वाली जगह पर रख दे। आप इसे धारण भी कर सकते हैं। इस जड़ को सोने के ताबीज में धारण करना शुभ होगा। जब तक ये ताबीज आपके पास रहेगा धन कोई कोई कमी नहीं होगी। घर में सभी सुख रहेंगे।

अष्टमी को ये करें

ये प्रयोग नवरात्रि के दिनों में अष्टमी तिथि को किया जाता है। इस उपाय के लिए प्रातःकाल उठकर पूजा स्थल में गंगाजल से छींटे लगाएं। अब एक पट्टे के ऊपर दुर्गा जी के चित्र के सामने पूर्व में मुंह करके उसपर 5 ग्राम सिक्के रखें। उन सिक्कों पर रोली, लाल चंदन और एक गुलाब का पुष्प चढ़ाएं। अब इन सभी चीजों को पोटली में बांधकर पैसे रखने वाले स्थान पर रख दें। हर 6 महीने बाद ये टोटका दोहराएं।

सुख-समृद्धि और धन लाभ के लिए

इस उपाय के लिए शुक्ल पक्ष के बुधवार को एक हंडिया में सवा किलो हरी साबुत मूंग की दाल और दूसरी में सवा किलो डली वाला नमक (साबुत नमक) भर के ढक्कन से ढक दें। अब इन दोनों हंडिया को घर में कहीं ऐसी साफ जगह पर रख दें। जहाँ पर आने-जाने वालों की निगाह नहीं पड़े। इस उपाय को करने से व्यापार, कारोबार, नौकरी में लाभ होगा। आय के स्तोत्र खुलेंगे, घर में धन आना शुरू होगा, धन में बरकत होगी और स्थाई सुख-समृद्धि की प्राप्ति होगी।

धन प्राप्ति के लिए इन बातों का ध्यान रखें

अपार धन समृद्धि पाने के लिए आपको दैनिक जीवन में भी कुछ बातों का खास ध्यान रखना होगा ताकि नेगेटिव प्रभावों को कम किया जा सके।

  • झाड़ू को लक्ष्मी का स्वरुप माना जाता है। इसीलिए झाड़ू हमेशा किसी साफ और ऐसे स्थान पर रखनी चाहिए की किसी भी बाहर वाले को दिखाई न दे। झाड़ू को हमेशा लिटाकर रखें, कभी खड़ा करके नहीं रखें, झाड़ू में पैर नहीं लगाएं। ऐसा करने से लक्ष्मी रूठ जाती हैं।
  • माँ लक्ष्मी की कृपा पाने के लिए घर का मुखिया रात के समय कभी भी चावल, सत्तू, दही, दूध, मूली आदि सफ़ेद चीजों को नहीं खाएं।
  • माना जाता है, जो व्यक्ति नहाते हुए या पैर धोते हुए पैरों को पैर से रगड़कर साफ करता है, सिर पर तेल लगाने के बाद हाथों के तेल को मुंह कलाई या बाजुओं में रगड़ता है, नोटों को थूक लगाकर गिनता है उनसे माँ लक्ष्मी रूठ जाती हैं। उन पर हमेशा धन का संकट बना रहता है। इसीलिए ध्यान रखें।
  • घर के शाम के समय कभी भी झाड़ू नहीं लगाएं। दूकान, या कार्य स्थल पर भी सूर्य डूबने के बाद झाड़ू लगाने से बचें।
  • संभव हो तो दिन के समय सोएं नहीं। आप बीमार हैं या कोई और समस्या है तो बात अलग है। पर स्वस्थ होने पर ऐसा नहीं करें।

तो ये कुछ उपाय और सावधानियां हैं जिन्हे प्रयोग करके धन समृद्धि पा सकते हैं।