गौरी व्रत

0

गौरी व्रत, माँ पार्वती को समर्पित एक विशेष पर्व है जिसे गुजरात में बड़ी श्रद्धा के साथ मनाया जाता है। इस पर्व में कुवारीं लड़कियां अच्छे पति की प्राप्ति के लिए माँ गौरी का पूजन करती है और उनका व्रत करती है। इस व्रत को आषाढ़ के महीने में 5 दिनों के लिए किया जाता है जिसका प्रारंभ शुक्ल पक्ष की एकादशी को होता है और अंत पूर्णिमा को। गौरी व्रत को मोराकत व्रत (મોળાકત વ્રત) भी कहा जाता है।