Take a fresh look at your lifestyle.

जयापार्वती व्रत

यह पर्व माँ पार्वती के एक स्वरुप ‘जया’ को समर्पित एक विशेष पर्व है जिसे जयापार्वती व्रत के नाम से जाना जाता है। इस व्रत को मुख्य रूप से गुजरात में मनाया जाता है। इस दिन व्रत रखने का विशेष विधान है जिसे न केवल कुवारीं लड़कियां अपितु सुहागिन स्त्रियाँ भी रखती है। माना जाता है इस व्रत को रखने से लड़कियों को उनका इच्छित पति मिल जाता है और स्त्रियों के पति की आयु लंबी होती है। जयापार्वती व्रत को आषाढ़ माह में 5 दिनों के लिए रखा जाता है जिसका प्रारंभ शुक्ल पक्ष की त्रयोदशी तिथि को होता है और अंत कृष्ण पक्ष की तृतीया को। इस व्रत को 5, 7, 9, 11 या 20 से अधिक सालों तक निरंतर रखने का विधान है।