Ultimate magazine theme for WordPress.

गृह निर्माण नया मकान बनवाने का मुहूर्त और सही समय २०१८ में

Muhurat To Start Construction Of New House in 2018

Note : गृह निर्माण, नया घर बनाने के पहले शुभ मुहुर्त का निकालना बहूत जरुरी होता है, सुख शांति, बरकत, और नया घर आपके लिए शुभ हो, इसके लिए सही मुहुर्त और चौघडिया में काम शुरू करना बहूत जरुरी होता है, इसलिए आप इसको नजर अंदाज नहीं करें, आप किसी आचार्य से मुहुर्त निकलवाएँ, जिनको मुहुर्त और ग्रह नक्षत्र और निकालने में निपुणता हो, किसी से भी मुहुर्त नहीं निकलवाएँ, ये जरुरी नहीं है जो पंडित या ब्राह्मण आपके यहाँ पूजा करते है वो इस काम में दक्ष हों, इसलिए अगर आप गृह निर्माण या भूमि पूजन की सोच रहे हैं तो जरुर शुभ दिन दिखा कर ही कार्य शुरू करें

शुभतिथि डॉट कॉम पर आपके लिए गृह निर्माण शुभ मुहूर्त, भूमि पूजन मुहूर्त निकालने की सुविधा उपलब्ध है, आप 151 रूपए की सहयोग राशि देकर अपनी कुंडली और राशि के अनुसार मुहूर्त निकलवा सकते है। पूर्ण जानकारी आपको मेल पर भेज दी जाएगी। सहयोग और आपकी जानकारी किनके नाम से मुहूर्त निकालना है

हिन्दू पंचांग के अनुसार गृह निर्माण कार्य का प्रारंभ सही और उचित मुहूर्त में ही करवाना चाहिए। क्योंकि सही मुहूर्त में गृह निर्माण कार्य प्रारंभ करवाने से घर में सब कुछ मंगल होता है और व्यक्ति को उस घर से जुड़े किसी भी कार्य में कठिनाइयों का सामना नहीं करना पड़ता। यहाँ हम आपको गृह निर्माण कब शुरू करवाया जाए इसके बारे में विस्तृत जानकारी दे रहे है।


गृह निर्माण कार्य प्रारंभ निकालने के लिए इन बातों का ध्यान रखें 

कौन से नक्षत्र में गृह निर्माण कार्य प्रारंभ करें?

हिन्दू ज्योतिषियों के अनुसार कुछ विशेष नक्षत्र है जिनमे गृह निर्माण का कार्य प्रारंभ करवाना शुभ होता है। वे नक्षत्र है – मृगशिरा, पुष्य, अनुराधा, उत्तराफाल्गुनी, उत्तराभाद्रपद, उत्तराषाढ़, धनिष्ठा, शतभिषा, चित्रा, हस्त, रोहिणी, रेवती।

कौन से वार को गृह निर्माण कार्य शुरू करें?

नया घर बनवाने के लिए सोमवार, बुधवार, बृहस्पतिवार, शुक्रवार, शनिवार शुभ माने जाते है। इन दिनों में आप गृह निर्माण का कार्य आरंभ करवा सकते है।

कौन सी तिथि को गृह निर्माण कार्य प्रारंभ करें?

नया घर बनवाने के लिए द्वितीया, तृतीया, पंचमी, सप्तमी, दशमी, एकादशी, त्रयोदशी, पूर्णिमा तिथियां शुभ मानी जाती है।

कौन से महीने में घर बनवाने का कार्य शुरू करें?

साल के सभी बारह महीनों में वैशाख, श्रावण, माघ, पौष, फाल्गुन माह को गृह निर्माण कार्य प्रारंभ के किये शुभ माना जाता है।इन महीनों में नया घर बनवाने का कार्य शुरू करवाया जा सकता है।


घर बनवाने का शुभ मुहूर्त 2018

नक्षत्र मृगशिरा, पुष्य, अनुराधा, उत्तराफाल्गुनी, उत्तराभाद्रपद, उत्तराषाढ़, धनिष्ठा, शतभिषा, चित्रा, हस्त, रोहिणी, रेवती
वार सोमवार, बुधवार, बृहस्पतिवार, शुक्रवार, शनिवार
तिथि द्वितीया, तृतीया, पंचमी, सप्तमी, दशमी, एकादशी, त्रयोदशी, पूर्णिमा
माह वैशाख, श्रावण, माघ, पौष, फाल्गुन
लग्न द्वितीया, तृतीया, पंचमी, षष्ठी, अष्टमी, नवमी, एकादशी, द्वादशी
लग्न शुद्धि शुभ ग्रह लग्न से प्रथम, चतुर्थ, सप्तम, दशम, पंचम, नवम स्थानों में एवं पापग्रह तृतीया, षष्ठम, एकादश स्थानों में शुभ होते है। अष्टम, द्वादश स्थान में कोई गृह नहीं होना चाहिए।

गृह निर्माण का कार्य प्रारंभ करते समय ध्यान रखने योग्य बातें :-

1. घर बनाने का कार्य आरंभ करने के लिए सूर्य के नक्षत्र से सात नक्षत्र अशुभ, आगे के ग्यारह नक्षत्र शुभ और इससे आगे के दस नक्षत्र अशुभ माने जाते है। इस गणना में अभिजीत भी सम्मिलित है।

7 11 10 सूर्य नक्षत्र से
अशुभ शुभ अशुभ फल

2. गृह निर्माण करने से पूर्व नीव रखी जाती है, जिस दौरान भूमि पूजन का विशेष महत्व होता है। वास्तु के अनुसार नीव रखने के लिए उत्तर-पूर्वी दिशा अच्छी मानी जाती है।

3. किसी भी नए भवन या घर का निर्माण करने से पूर्व भूमि पूजन करवाना आवश्यक होता है। नए भवन का निर्माण दक्षिण-पश्चिम दिशा से प्रारंभ करते हुए उत्तर-पश्चिम / दक्षिण-पूर्वी दिशा की ओर करना चाहिए। जिसका समापन उत्तर पूर्वी दिशा में करना चाहिए जहाँ से इसका प्रारंभ किया था


कृपया ध्यान दें

गृह निर्माण / नींव पूजा / भूमि पूजन का मुहूर्त हमेशा गृह स्वामी के नाम व् जन्मतिथि के अनुसार निकाला जाता है। अगर आप भी गृह निर्माण / नींव पूजा के लिए शुभ मुहूर्त निकलवाना चाहते हैं, तो नीचे दिए गए पेमेंट बटन पर क्लिक कर अपने लिए शुभ मुहुर्त लें सकते हैं। सहयोग करने के लिए कृपया ₹151 का डोनेशन करें। मुहूर्त जल्द ही आपके ईमेल पर भेजा जाएगा। पेमेंट के बाद अपनी सभी डिटेल्स फॉर्म में भरें, जो पेमेंट के बाद ओपन होगा।