Take a fresh look at your lifestyle.
गृह निर्माण, भूमि पूजन, नींव पूजन मुहूर्त

गृह निर्माण, भूमि पूजन, नींव पूजन मुहूर्त 2019

2019 में गृह निर्माण, भूमि पूजन, नींव पूजन शुभ मुहूर्त की तिथियां, समय, नक्षत्र और शुभ तिथि 2019 के इन महीनों के लिए जो आपके लिए शुभ होगा।

जुलाई 2019

गृह निर्माण, भूमि पूजन और नींव पूजन जुलाई 2019 में मुहूर्त, मुहूर्त चक्र के अनुसार नहीं है। फिर भी बहुत जरुरी होने पर कई लोग अबूझ मुहूर्त में, शुभ संयोग मुहूर्त में गृह निर्माण, भूमि पूजन, नींव पूजन करते हैं। पर इसके लिए आप जानकारी ले लें।

अगस्त 2019

गृह निर्माण, भूमि पूजन और नींव पूजन अगस्त 2019 में मुहूर्त, मुहूर्त चक्र के अनुसार नहीं है। फिर भी बहुत जरुरी होने पर कई लोग अबूझ मुहूर्त में, शुभ संयोग मुहूर्त में गृह निर्माण, भूमि पूजन, नींव पूजन करते हैं। पर इसके लिए आप जानकारी ले लें।

सितंबर 2019

गृह निर्माण, भूमि पूजन और नींव पूजन सितंबर 2019 में मुहूर्त, मुहूर्त चक्र के अनुसार नहीं है। फिर भी बहुत जरुरी होने पर कई लोग अबूझ मुहूर्त में, शुभ संयोग मुहूर्त में गृह निर्माण, भूमि पूजन, नींव पूजन करते हैं। पर इसके लिए आप जानकारी ले लें।

अपने नाम और राशि के अनुसार गृह निर्माण नींव पूजन मुहूर्त

गृह निर्माण, भूमि पूजन, नींव पूजन का मुहूर्त निकलवाने के लिए कृपया 251 रूपए का डोनेशन करें। हम आपके लिए आपके नाम के अनुसार जन्म तिथि के अनुसार, आपकी राशि के अनुसार क्या शुभ होगा मुहूर्त निकालकर भेजंगे। ताकि नए घर में खुशियां, परिवार में सुख-शान्ति, और आपको अपार सफलता मिलें।

अक्टूबर 2019

  • 8 अक्टूबर 2019, मंगलवार, नक्षत्र – श्रवण, दशमी
  • 9 अक्टूबर 2019, बुधवार, नक्षत्र – धनिष्ठा, एकादशी
  • 19 अक्टूबर 2019, शनिवार, नक्षत्र – मृगशिरा, पंचमी
  • 25 अक्टूबर 2019, शुक्रवार, नक्षत्र – उत्तराफाल्गुनी, द्वादशी
  • 26 अक्टूबर 2019, शनिवार, नक्षत्र – उत्तराफाल्गुनी, त्रयोदशी
  • 30 अक्टूबर 2019, बुधवार, नक्षत्र – अनुराधा, तृतीया

नवंबर 2019

  • 6 नवंबर 2019, बुधवार, धनिष्ठा, नक्षत्र – शतभिषा, नवमी
  • 9 नवंबर 2019, शनिवार, नक्षत्र – उत्तराभाद्रपद, द्वादशी
  • 14 नवंबर 2019, गुरुवार, नक्षत्र – रोहिणी, द्वितीया
  • 15 नवंबर 2019, शुक्रवार, नक्षत्र – मृगशिरा, तृतीया
  • 18 नवंबर 2019, सोमवार, नक्षत्र – पुष्य, षष्ठी
  • 23 नवंबर 2019, शनिवार, नक्षत्र – हस्त / चित्रा, द्वादशी

दिसंबर 2019

  • 2 दिसंबर 2019, सोमवार, नक्षत्र – धनिष्ठा, षष्ठी
  • 4 दिसंबर 2019, बुधवार, नक्षत्र – शतभिषा, अष्टमी
  • 12 दिसंबर 2019, गुरुवार, नक्षत्र – मृगशिरा, पूर्णिमा

शुभ मुहूर्त में ही गृह निर्माण, भूमि पूजन क्यों किया जाता है?

गृह निर्माण, नया घर बनाने के पहले शुभ मुहुर्त का निकालना बहूत जरुरी होता है। सुख शांति, बरकत, और नया घर आपके लिए शुभ हो, इसके लिए सही मुहुर्त और चौघडिया में काम शुरू करना बहूत जरुरी होता है। इसलिए आप इसको नजर अंदाज नहीं करें। आप किसी आचार्य से मुहुर्त निकलवाएँ, जिनको मुहुर्त और ग्रह नक्षत्र और निकालने में निपुणता हो। किसी से भी मुहुर्त नहीं निकलवाएँ, ये जरुरी नहीं है जो पंडित या ब्राह्मण आपके यहाँ पूजा करते है वो इस काम में दक्ष हों। इसलिए अगर आप गृह निर्माण या भूमि पूजन की सोच रहे हैं तो जरुर शुभ दिन दिखा कर ही कार्य शुरू करें।

हिन्दू पंचांग के अनुसार गृह निर्माण कार्य का प्रारंभ सही और उचित मुहूर्त में ही करवाना चाहिए। क्योंकि सही मुहूर्त में गृह निर्माण कार्य प्रारंभ करवाने से घर में सब कुछ मंगल होता है और व्यक्ति को उस घर से जुड़े किसी भी कार्य में कठिनाइयों का सामना नहीं करना पड़ता।

मुहूर्त चक्र के अनुसार गृह निर्माण, भूमि पूजन की तिथि, नक्षत्र और वार

गृह निर्माण, भूमि पूजन, नींव पूजन 2019 के लिए

शुभ दिन – सोमवार, बुधवार, बृहस्पतिवार, शुक्रवार, शनिवार

नक्षत्र – मृगशिरा, पुष्य, अनुराधा, उत्तराफाल्गुनी, उत्तराभाद्रपद, उत्तराषाढ़, धनिष्ठा, शतभिषा, चित्रा, हस्त, रोहिणी, रेवती

तिथि – द्वितीया, तृतीया, पंचमी, सप्तमी, दशमी, एकादशी, त्रयोदशी, पूर्णिमा

माह – वैशाख, श्रावण, माघ, पौष, फाल्गुन

शुभ लग्न – द्वितीया, तृतीया, पंचमी, षष्ठी, अष्टमी, नवमी, एकादशी, द्वादशी

अपने नाम और राशि के अनुसार गृह निर्माण भूमि पूजन मुहूर्त निकलवाएं

गृह निर्माण, भूमि पूजन, नींव पूजन मुहूर्त निकलवाने के लिए कृपया 251 रूपए का डोनेशन करें। हम आपके लिए आपके नाम के अनुसार जन्म तिथि के अनुसार, आपकी राशि के अनुसार क्या शुभ होगा मुहूर्त निकालकर भेजंगे। ताकि नए घर में खुशियां, परिवार में सुख-शान्ति, और आपको अपार सफलता मिलें।

Contact Us : [email protected]

WhatsApp : 09599-24-84-66

महत्वपूर्ण जानकारियां - नया घर बनाने से पहले, नींव पूजा करने से पहले, भूमि पूजन के पहले जानिये जरुरी बातें।

नींव पूजा क्या है?

किसी भी नए मकान को बनवाने से पूर्व उस भूमि, उस स्थान की पूजा की जाती है। इसी पूजा को भूमि पूजन, नींव पूजन कहते हैं। मकान बनाने से पूर्व नींव पूजा की जाती है और उसके बाद निर्माण कार्य आरंभ होता है।

कौन से महीनों में भूमि पूजन किया जाता है?

मुहूर्त चक्र के अनुसार, वैशाख, सावन, कार्तिक, मार्गशीर्ष, माघ, पौष और फाल्गुन माह में भूमि पूजन किया जा सकता है। नए मकान की नींव पूजन के लिए ये महीने सबसे शुभ हैं।

नींव पूजन की तिथि और वार क्या होना चाहिए?

भूमि पूजन के लिए द्वितीया, तृतीया, पंचमी, सप्तमी, दशमी, एकादशी, त्रयोदशी और पूर्णिमा आदि तिथियां शुभ होती है। सोमवार, बुधवार, गुरुवार, शुक्रवार और शनिवार के दिन नींव पूजन कराना शुभ होता है।

किस नक्षत्र में भूमि पूजन करें?

मुहूर्त चक्र के अनुसार, मृगशिरा, पुष्य, अनुराधा, उत्तराफाल्गुनी, उत्तराभाद्रपद, उत्तराषाढ़, धनिष्ठा, शतभिषा, चित्रा, हस्त, रोहिणी और रेवती नक्षत्र में भूमि पूजन किया जा सकता है।

भूमि पूजन और नींव पूजा कब नहीं करनी चाहिए?

गृह प्रवेश की भांति नींव पूजन भी कुछ खास दिनों में करना वर्जित होता है। शुभ मुहूर्त के साथ-साथ कुछ ऐसी तिथियां भी होती हैं जिनमे नींव पूजन कराना शुभ नहीं होता। इन दिनों में भूलकर भी भूमि पूजन नहीं करना चाहिए।

  • अधिक मास (वर्ष में एक मास अधिक होने पर)
  • मलमास या खरमास (सूर्य जब धनु और मीन राशि में जाता है)
  • चातुर्मास (चार महीने की अवधि जब देव सो जाते हैं)
  • श्राद्ध पक्ष (पितरों के लिए)
  • पंचक (पांच अशुभ नक्षत्र)
  • दक्षिणायन (सूर्य जब दक्षिण दिशा की ओर होता है)
  • होलाष्टक आदि दिनों में गृह प्रवेश नहीं करना चाहिए।