Take a fresh look at your lifestyle.

जीर्ण गृह प्रवेश

जीर्ण गृह प्रवेश 2020

दिनांक दिन तिथि नक्षत्र
2 जनवरी 2020 गुरूवार सप्तमी उत्तराभाद्रपद
3 जनवरी 2020 शुक्रवार अष्ठमी रेवती
8 जनवरी 2020 बुधवार त्रयोदशी रोहिणी
15 जनवरी 2020 बुधवार पंचमी उत्तराफाल्गुनी
17 जनवरी 2020 शुक्रवार सप्तमी चित्रा
20 जनवरी 2020 सोमवार एकादशी अनुराधा
27 जनवरी 2020 सोमवार तृतीया घनिष्ठा
29 जनवरी 2020 बुधवार चतुर्थी उत्तराभाद्रपद
30 जनवरी 2020 गुरूवार पंचमी उत्तराभाद्रपद
31 जनवरी 2020 शुक्रवार षष्ठी रेवती
5 फरवरी 2020 बुधवार एकादशी मृगशिरा
13 फरवरी 2020 गुरूवार पंचमी चित्रा
14 फरवरी 2020 शुक्रवार षष्ठी चित्रा
20 फरवरी 2020 गुरूवार द्वादशी उत्तराषाढ़ा
21 फरवरी 2020 शुक्रवार त्रयोदशी उत्तराषाढ़ा
26 फरवरी 2020 बुधवार तृतीया उत्तराभाद्रपद
7 मार्च 2020 शनिवार द्वादशी पुष्य
13 मार्च 2020 शुक्रवार चतुर्थी स्वाति
17 अप्रैल 2020 शुक्रवार दशमी घनिष्ठा
18 अप्रैल 2020 शनिवार एकादशी शतभिषा
20 अप्रैल 2020 सोमवार त्रयोदशी उत्तराभाद्रपद
27 अप्रैल 2020 सोमवार चतुर्थी मृगशिरा
30 अप्रैल 2020 गुरूवार सप्तमी पुष्य
4 मई 2020 सोमवार एकादशी उत्तराफाल्गुनी
8 मई 2020 शुक्रवार प्रतिपदा विशाखा
9 मई 2020 शनिवार द्वितीया अनुराधा
18 मई 2020 सोमवार एकादशी उत्तराभाद्रपद
25 मई 2020 सोमवार तृतीया मृगशिरा
27 मई 2020 बुधवार पंचमी पुष्य
28 मई 2020 गुरूवार षष्ठी पुष्य
11 जून 2020 गुरूवार षष्ठी घनिष्ठा
12 जून 2020 शुक्रवार सप्तमी शतभिषा
15 जून 2020 सोमवार दशमी रेवती
24 जून 2020 बुधवार तृतीया पुष्य
2 जुलाई 2020 गुरूवार द्वादशी अनुराधा
9 जुलाई 2020 गुरूवार चतुर्थी / पंचमी शतभिषा
11 जुलाई 2020 शनिवार षष्ठी उत्तराभाद्रपद
13 जुलाई 2020 सोमवार अष्ठमी रेवती
17 जुलाई 2020 शुक्रवार द्वादशी रोहिणी
18 जुलाई 2020 शनिवार त्रयोदशी मृगशिरा
25 जुलाई 2020 शनिवार पंचमी उत्तराफाल्गुनी
27 जुलाई 2020 सोमवार सप्तमी चित्रा
29 जुलाई 2020 बुधवार दशमी अनुराधा
30 जुलाई 2020 गुरूवार एकादशी अनुराधा
5 अगस्त 2020 बुधवार द्वितीया घनिष्ठा  / शतभिषा
6 अगस्त 2020 गुरूवार तृतीया शतभिषा
8 अगस्त 2020 शनिवार पंचमी उत्तराभाद्रपद
13 अगस्त 2020 गुरुवार नवमी / दशमी रोहिणी
14 अगस्त 2020 शुक्रवार दशमी / एकादशी मृगशिरा
21  अगस्त 2020 शुक्रवार तृतीया उत्तराफाल्गुनी
24 अगस्त 2020 सोमवार षष्ठी स्वाति
2 सितम्बर 2020 बुधवार पूर्णिमा शतभिषा
4 सितम्बर 2020 शुक्रवार द्वितीया उत्तराभाद्रपद
10 सितम्बर 2020 गुरूवार अष्ठमी रोहिणी / मृगशिरा
14 सितम्बर 2020 सोमवार द्वादशी पुष्य
19 अक्टूबर 2020 सोमवार तृतीया अनुराधा
26 अक्टूबर 2020 सोमवार दशमी शतभिषा
28 अक्टूबर 2020 बुधवार द्वादशी उत्तराभाद्रपद
29 अक्टूबर 2020 गुरूवार त्रयोदशी उत्तराभाद्रपद / रेवती
11 नवंबर 2020 बुधवार एकादशी उत्तराफ़ाल्गुनी
12 नवंबर 2020 गुरूवार द्वादशी हस्त
13 नवंबर 2020 शुक्रवार त्रयोदशी चित्रा
19 नवंबर 2020 गुरूवार पंचमी उत्तराषाढ़ा
21 नवंबर 2020 शनिवार सप्तमी घनिष्ठा
25 नवंबर 2020 बुधवार एकादशी उत्तराभाद्रपद
26 नवंबर 2020 गुरूवार द्वादशी रेवती
30 नवंबर 2020 सोमवार पूर्णिमा रोहिणी
2 दिसंबर 2020 बुधवार द्वितीया मृगशिरा
5 दिसंबर 2020 शनिवार पंचमी पुष्य
10 दिसंबर 2020 गुरूवार दशमी / एकादशी चित्रा
11 दिसंबर 2020 शुक्रवार एकादशी स्वाति

 

जीर्ण गृह प्रवेश मुहूर्त 2020 (Jiran Griha Pravesh Shubh Muhurat Date 2020 )

Griha Pravesh Muhurat 2020 :  यदि आप पुराने घर को नए तरीका से बनवाकर उसमें गृह प्रवेश करने जा रहे है  तो उसके लिए सही मुहूर्त का होना बहुत जरुरी होता है। इसके लिए सबसे पहले मुहूर्त चक्र का ध्यान रखना होता है। जैसे कौनसे नक्षत्र में जीर्ण गृह प्रवेश करना चाहिए, कौनसी तिथि शुभ होती है, किस महीने में गृह प्रवेश किया जाता है , इन सभी बातो का गहन अध्यन करने के बाद ही मुहूर्त निकाला जाता है।  ताकि नए घर में खुशिया, शांति, धनदौलत और बरकद हमेशा बानी रहे। गृह प्रवेश मुहूर्त  का अपना मुहूर्त चक्र होता है इसीलिए कभी भी कोई अन्य मुहूर्त या योग को देखकर गृह प्रवेश नहीं करना चाहिए। सौ में तीस लोग ही उचित मुहूर्त में गृहप्रवेश करते है।

कौनसे नक्षत्र में गृह प्रवेश करना चाहिए

नये घर में प्रवेश से पहले मृगशिरा, रेवती, चित्रा,अनुराधा, उत्तराफाल्गुनी , उत्तराषाढ़ा, उत्तराभाद्रपद, रोहिणी, स्वाति, पुनर्वसु , श्रवण, घनिष्ठा, शतभिषा नक्षत्र में वास्तुपूजा और हवन करने के बाद ही नए घर में रहने के लिए जाना चाहिए।

शुभ वार गृह प्रवेश 2020 के लिए : सोमवार, बुधवार, गुरुवार, शुक्रवार, शनिवार

शुभ तिथि गृह प्रवेश 2020 के लिए :  तिथि द्वितीया, तृतीया, पंचमी, षष्ठी, सप्तमी, दशमी, एकादशी, द्वादशी, त्रयोदशी
लग्न द्वितीया, पंचमी, अष्टमी, एकादशी उत्तम है। तृतीया, षष्ठी, नवमी, द्वादशी मध्यम है।

शुभ लग्न गृह प्रवेश 2020 के लिए – शुद्धि लग्न से प्रतिपदा, द्वितीया, तृतीया, पंचमी, सप्तमी, नवमी, दशमी, एकादशी स्थानों में शुभ ग्रह शुभ होते है। तृतीया, षष्ठी, एकादशी स्थानों में पापग्रह शुभ होते है। चतुर्थी, अष्टमी स्थानों में कोई ग्रह नहीं होना चाहिए।

हिंदी माह गृह प्रवेश 2020 के लिए शुभ -वैशाख, ज्येष्ठ, माघ , फाल्गुन ,कार्तिक, मार्गशीर्ष इन महीनो में किया गया गृह प्रवेश शुभ फल देता है।

यदि गृह आरम्भ करते समय वास्तु पूजन नहीं किया तो गृह प्रवेश करते समय वास्तु शांति के लिए पूजा जरूर करनी चाहिए और मित्र व परिजनों को भोज देना चाहिए।

जीर्ण गृह प्रवेश मुहूर्त के लिए कृपया 251/ डोनेट करें और पायें अपने नाम और राशि के अनुसार मुहूर्त

हम आपके लिए आपकी राशि, लग्न और ग्रह के अनुसार और आपके क्षेत्र के अनुसार गृह प्रवेश का मुहूर्त निकालते हैं। मात्र 251 रूपए के डोनेशन पर। डोनेशन के बाद आप फॉर्म भरें मुहूर्त आपको मेल के द्वारा जल्द से जल्द भेजा जाएगा।