Business is booming.

कर्णवेध मुहूर्त 2020, कान छिदवाने का शुभ मुहूर्त 2020

0

Karnvedha 2020

हिन्दू धर्म के अनुसार, व्यक्ति के जीवन काल में सोलह संस्कार किये जाते हैं। उन सोलह संस्कारों में से कर्णवेध नौवां संस्कार है। जिसे शिशु की श्रवण शक्ति को बढ़ाने, कान में आभूषण पहनाने और स्वास्थ्य को सही रखने के लिए किया जाता है। कन्यायों के लिए कर्णवेध संस्कार बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है। इस संस्कार में शिशु के दोनों कानों में छेद किये जाए हैं और उसमे स्वर्ण के कुंडल पहनाएं जाते हैं। माना जाता है ऐसा करने से शारीरिक लाभ होता है।

कर्णवेध संस्कार जनेऊ से पूर्व ही करना आवश्यक होता है। इस संस्कार को 6 माह से लेकर 16 वे माह तक या 3, 5 आदि विषम वर्षों में किया जाना चाहिए। माना जाता है, सूर्य की किरणों कानों के छिद्र से प्रवेश कर शिशु को तेजस्वी बनाती हैं। शास्त्रों के अनुसार कर्णवेध रहित पुरुष को श्राद्ध का अधिकारी नहीं माना जाता है। मानव जीवन में इस संस्कार को महत्वपूर्ण माना जाता है इसलिए कर्णवेध करने से पूर्व शुभ मुहूर्त पर विचार किया जाता है। शुभ समय में, पवित्र स्थान पर बैठकर देवताओं का पूजन करने के बाद सूर्य की रौशनी में शिशु के कान छेदे जाते हैं।

यहाँ हम 2020 में कर्णवेध संस्कार का शुभ मुहूर्त दे रहे हैं। आप नीचे दिए गए मुहूर्त में से चुनकर अपने शिशु के कर्णवेधन का शुभ मुहूर्त निकाल सकते हैं।

कर्णवेध मुहूर्त चक्र

नक्षत्र श्रवण, धनिष्ठा, पुनर्वस, मृगशिरा, रेवती, चित्रा, अनुराधा, हस्त, अश्विनी, पुष्य, अभिजीत
वार सोमवार, बुधवार, गुरुवार, शुक्रवार
तिथि प्रतिपदा, द्वितीया, तृतीया, पंचमी, षष्ठी, सप्तमी, दशमी, एकादशी, द्वादशी, त्रयोदशी, पूर्णिमा
लग्न द्वितीय, तृतीय, चतुर्थी, षष्ठी, सप्तमी, नवमी, द्वादशी
लग्नशुद्धि शुभग्रह 1/3/4/5/7/9/10/11 स्थानों में, पापग्रह 3/6/11 स्थानों में शुभ होते हैं। अष्टम में कोई गृह न हो। अयादि ग्रुरु लग्न में हो तो विशेष उत्तम होता है।

Karnvedha Muhurat 2020

जनवरी 2020 कर्णवेध मुहूर्त

तारीख दिन नक्षत्र तिथि
16 जनवरी 2020 गुरुवार उत्तराफाल्गुनी, हस्त षष्ठी
17 जनवरी 2020 शुक्रवार चित्रा सप्तमी
20 जनवरी 2020 सोमवार अनुराधा एकादशी
31 जनवरी 2020 शुक्रवार रेवती षष्ठी

फरवरी 2020 कर्णवेध मुहूर्त

तारीख दिन नक्षत्र दिन
7 फरवरी 2020 शुक्रवार पुनर्वसु त्रयोदशी
13 फरवरी 2020 गुरुवार हस्त पंचमी
14 फरवरी 2020 शुक्रवार चित्रा षष्ठी
21 फरवरी 2020 शुक्रवार श्रवण त्रयोदशी
28 फरवरी 2020 शुक्रवार आश्विन पंचमी

मार्च 2020 कर्णवेध मुहूर्त

तारीख दिन नक्षत्र तिथि
4 मार्च 2020 बुधवार आर्द्रा नवमी
5 मार्च 2020 गुरुवार पुनर्वसु दशमी
6 मार्च 2020 शुक्रवार पुष्य एकादशी, द्वादशी