Ultimate magazine theme for WordPress.

मंगलवार को व्रत रखने के क्या फायदे होते हैं? जानिये

मंगलवार का व्रत

मंगलवार को व्रत रखने के क्या फायदे होते हैं? Mangalwar Vrat Ke Fayde, Benefits of Tuesday Fasting, मंगलवार व्रत के लाभ, मंगल ग्रह का व्रत कब करें? मंगलवार का व्रत कैसे करें, मंगलवार व्रत के फायदे, मंगलवार व्रत विधि, Tuesday Fast ki Vidhi, Tuesday Fast Benefits, Mangalwar Vrat Benefits


हिन्दू धर्म में मंगलवार का दिन भगवान हनुमान को समर्पित है। दक्षिण भारत में इस दिन स्कन्द यानी भगवान् कार्तिकेय का पूजन किया जाता है। मंगल-वार के दिन भगवान हनुमान की पूजा करना और हनुमान चालीसा का पाठ करना बहुत शुभ होता है।

मंगलवार का व्रत

शास्त्रों के अनुसार, मंगलवार का व्रत वो दंपत्ति रखते हैं जो पुत्र प्राप्ति की इच्छा रखते हैं। माना जाता है मंगलवार का व्रत रखने से पुत्र संतान की प्राप्ति होती है और परिवार में खुशियां आती हैं।

मंगल ग्रह के रूप में

ज्योतिष मंगलवार व्रत को मंगल ग्रह से भी जोड़ते हैं। मंगल सौरमंडल के नवग्रहों में से एक है जिसे अंगारक के नाम से भी जाना जाता है। मंगल देव पृथ्वी या भूमि के पुत्र कहे जाते हैं। ज्योतिषियों के अनुसार, जिनकी कुंडली में मंगल दोष है या मंगल कमजोर या नीच स्थिति में होता है, उन्हें भी मंगलवार का व्रत रखना चाहिए।

मंगलवार का व्रत रखने से मंगल ग्रह मजबूत होता है और मंगल ग्रह से जुड़े हानिकारक प्रभावों को कम करने में मदद मिलती है। मंगल ग्रह की खराब स्थिति परिवार में अशांति और दुखों का कारण भी बनती है।

मंगलवार व्रत कैसे करें?

मंगलवार का व्रत एक पुरे दिन रखा जाता है, जो भक्त मंगलवार का व्रत रखते हैं वे केवल गेहूं और गुड़ से बनें भोजन का सेवन करते हैं। मंगलवार व्रत के पहले दिन संकल्प लिया जाता है की कितने दिन तक मंगलवार व्रत रखा जाएगा। अधिकतर, यह 21 मंगलवार के लिए किया जाता है।

भगवान हनुमान के साथ-साथ मंगल देव के लिए भी मंगलवार का व्रत रखा जाता है। यह व्रत जीवन में आने वाली परेशानियों को दूर करके बुराइयों को कम करने में मदद करता है। इस व्रत को रखने से कार्यों में सफलता मिलती है।

मंगलवार व्रत का महत्व

हर व्रत का अपना अलग महत्व और परिणाम होता है। मंगलवार व्रत करके भगवान हनुमान और मंगल देव को प्रसन्न किया जा सकता है। मंगल व्यक्ति की शारीरिक ऊर्जा, आत्मविश्वास और अहंकार, ताकत, क्रोध, आवेग, वीरता और साहसिक प्रकृति का प्रतिनिधित्व करता है।

मंगलवार का व्रत लाइलाज लाइलाज बिमारी, धन, अच्छा जीवनसाथी और कष्टों से राहत दिलाने में मदद करता है। मंगलवार व्रत उन्हें रखना चाहिए जिनकी कुंडली में मंगल की महादशा, प्रत्यंतर दशा या पारगमन की अवधि में अवांछित दुर्घटनाओं की महादशा हो। मंगल ग्रह के लिए मंगलवार व्रत रखने से मंगल से अशुभ प्रभावों को कम करने में मदद मिलती है।

यह व्रत बहुत लाभदायक होता है। इस दिन भगवान हनुमान की पूजा करने से कई पापों का नाश होता है और व्यक्ति को सुख, समृद्धि, धन और लाभ मिलता है।

मंगलवार व्रत विधि

भगवान हनुमान के लिए रखे जाने वाले मंगलवार व्रत के दिन विचार शुद्ध रखने चाहिए। यह व्रत भूत-प्रेत और काले सायों जैसी बाधाओं से मुक्ति दिलाने में मदद करता है। व्रत के दिन मंगलवार व्रत कथा जरूर सुननी चाहिए। मंगलवार के व्रत में नमक का प्रयोग नहीं करना चाहिए।

यह व्रत पुरे 21 मंगलवार के लिए रखा जाता है। व्रत के दिन सूर्योदय से पूर्व जागें और सुबह के नित्य काम और स्नान आदि करके गंगा जल छिड़क कर खुद को पवित्र कर लेना चाहिए। उपवास के दिन जातक को लाल रंग के वस्त्र पहनने चाहिए। पूजा में भगवान को लाल फूल अर्पित और अक्षत अर्पित करें। अंत में आरती पढ़ें और प्रसाद बाटें और अंत में खुद भी खाएं। आखिर में हाथ जोड़कर प्रार्थना करें और पुरे दिन उपवास रखने का संकल्प लें। ऐसा 21 मंगलवार तक करें। 21 वें मंगलवार को व्रत का उद्यापन करें।

मंगलवार व्रत करने के फायदे

मंगल व्रत रखने के हनुमान जी का आशीर्वाद मिलता है। जो पुरुष इस व्रत को पूरी निष्ठा और श्रद्धा के साथ सम्पूर्ण करता है उन्हें शुभ फल प्राप्त होता है। यह व्रत बल, सम्मान, साहस और पुरुषार्थ को बढ़ाता है। संतान प्राप्ति के लिए भी मंगलवार का व्रत बहुत फलदायक है। इस व्रत को रखने से पापों से मुक्ति मिलती है। मंगलवार का व्रत करने से भूत, प्रेत, काली शक्तियां, पिशाच, गंधर्व, यक्ष, बैताल आदि से भय नहीं रहता। और भी बहुत से फायदे होते हैं मंगलवार का व्रत रखने के।