Take a fresh look at your lifestyle.

नलकूप मुहूर्त, चापाकल, बोरिंग, बोरवेल शुभ मुहूर्त 2019

बोरवेल शुभ मुहूर्त 2019

बोरवेल, चापाकल, नलकूप मुहूर्त

शास्त्रों के अनुसार, प्रत्येक कार्य शुभ मुहूर्त और शुभ तिथि में किया जाना चाहिए। माना जाता है, अशुभ तिथि और गलत मुहूर्त में किया गया कार्य सफल नहीं होता। घर में बोरवेल, नलकूप, बोरिंग करवाना भी इन्ही कार्यों में से एक है। जिसे शुभ मुहूर्त में किया जाना चाहिए। पुराणों के अनुसार, वरुण देव को पानी का देवता माना गया है। और उन्ही की कृपा से पानी मिलता है। आपने देखा होगा, कई बार ट्यूबवेल खुदवाने के बाद भी पानी नहीं आता और अगर आता है तो बहुत कम मात्रा में। जिसकी वजह से ट्यूबवेल को हटाकर दोबारा से लगवाना पड़ता है।

कई बार जमीन के नीचे पर्याप्त मात्रा में पानी नहीं होता जबकि कई बार उसका स्वाद नमकीन होता है जिसे पीया नहीं जा सकता। माना जाता है, ऐसा अक्सर ट्यूबवेल नलकूप पंप बोरिंग की खुदाई सही समय पर नहीं करने की वजह से होता है। इसलिए बोरिंग करने से पूर्व एक बार शुभ मुहूर्त पर विचार कर लेना चाहिए। और वरुण देव की पूजा करनी चाहिए। यहाँ हम आपको नलकूप, बोरिंग, बोरवेल, ट्यूबवेल, पंप आदि की खुदाई करने के लिए शुभ मुहूर्त बता रहे हैं।

नलकूप, पम्पिंग सेट, बोरिंग, ट्यूबवेल, बोरवेल शुभ मुहूर्त 2019

तारीख दिन नक्षत्र तिथि
14 अप्रैल 2019 रविवार अश्लेषा शुक्ल पक्ष नवमी
15 अप्रैल 2019 सोमवार मघा शुक्ल पक्ष एकादशी
24 अप्रैल 2019 बुधवार मूल कृष्ण पक्ष पंचमी
25 अप्रैल 2019 गुरुवार पूर्वाषाढ़ कृष्ण पक्ष षष्ठी
29 अप्रैल 2019 सोमवार शतभिषा कृष्ण पक्ष दशमी
13 मई 2019 सोमवार पूर्वाफाल्गुनी शुक्ल पक्ष नवमी
26 मई 2019 रविवार शतभिषा कृष्ण पक्ष सप्तमी
7 जून 2019 शुक्रवार पुष्य शुक्ल पक्ष चतुर्थी
19 जून 2019 बुधवार पूर्वाषाढ़ कृष्ण पक्ष द्वितीया
24 जून 2019 सोमवार पूर्वाभाद्रपद कृष्ण पक्ष सप्तमी
5 जुलाई 2019 शुक्रवार अश्लेषा शुक्ल पक्ष तृतीया
7 जुलाई 2019 रविवार पूर्वाफाल्गुनी शुक्ल पक्ष पंचमी
21 जुलाई 2019 रविवार पूर्वाभाद्रपद कृष्ण पक्ष चतुर्थी
2 अगस्त 2019 शुक्रवार अश्लेषा शुक्ल पक्ष प्रतिपदा
11 अगस्त 2019 रविवार मूल शुक्ल पक्ष एकादशी
12 अगस्त 2019 सोमवार पूर्वाषाढ़ शुक्ल पक्ष द्वादशी
16 अगस्त 2019 शुक्रवार धनिष्ठा कृष्ण पक्ष प्रतिपदा
8 सितंबर 2019 रविवार मूल, पूर्वाषाढ़ शुक्ल पक्ष दशमी
10 अक्टूबर 2019 गुरुवार शतभिषा शुक्ल पक्ष द्वादशी
11 अक्टूबर 2019 शुक्रवार पूर्वाभाद्रपद शुक्ल पक्ष त्रयोदशी
23 अक्टूबर 2019 बुधवार अश्लेषा कृष्ण पक्ष दशमी
24 अक्टूबर 2019 गुरुवार पूर्वाफाल्गुनी कृष्ण पक्ष एकादशी
1 नवंबर 2019 शुक्रवार मूल शुक्ल पक्ष पंचमी
6 नवंबर 2019 बुधवार शतभिषा शुक्ल पक्ष नवमी
7 नवंबर 2019 गुरुवार शतभिषा शुक्ल पक्ष दशमी
21 नवंबर 2019 गुरुवार पूर्वाफाल्गुनी कृष्ण पक्ष नवमी
29 नवंबर 2019 शुक्रवार मूल शुक्ल पक्ष तृतीया
4 दिसंबर 2019 बुधवार शतभिषा शुक्ल पक्ष अष्टमी
16 दिसंबर 2019 सोमवार अश्लेषा कृष्ण पक्ष चतुर्थी
18 दिसंबर 2019 बुधवार पूर्वाभाद्रपद कृष्ण पक्ष सप्तमी