Auspecious Muhurat, Daily Panchang and Festivals

राहु शांति के उपाय क्या हैं

कुंडली में किसी भी दोष का होना व्यक्ति के जीवन में समस्या उत्त्पन्न कर सकता है। जैसे की किसी जातक पर शनि का प्रभाव होता है, गुरु कमजोर होता है, राहु केतु की छाया होती है, आदि। यदि इनमे से कोई भी दोष हो तो कई बार इसके बुरे परिणाम जातक को भुगतने पड़ सकते हैं। आज इस आर्टिकल में हम आपसे राहु दोष के बारे में बात करने जा रहे हैं। साथ ही इस दोष से बचाव के कुछ आसान उपाय बताने जा रहे हैं जिनसे आपकी कुंडली में राहु को शांति मिलती है।

राहु दोष के कारण क्या होता है?

यदि किसी जातक की कुंडली में राहु कमजोर होता है तो इसके कारण जातक के बनते काम बिगड़ने लग जाते हैं। साथ ही यदि किसी की शादी की उम्र हो रही है और उसका राहु कमजोर है तो इसकी वजह से उसकी शादी में देरी हो सकती है। ऐसे ही कुछ बुरे परिणाम आपको भी भुगतने पड़ सकते हैं यदि आपका राहु कमजोर है तो, लेकिन जिस तरह हर समस्या का कोई न कोई उपाय होता है। वैसे ही आप कुछ उपाय करके राहु के बुरे प्रभाव से भी निजात पा सकते हैं।

राहु शांति के उपाय

कुंडली में राहु की दशा को मजबूत करने और राहु की बुरी दृष्टि से बचाव के लिए आप कुछ आसान टिप्स को फॉलो कर सकते हैं। तो आइये अब इस आर्टिकल में हम आपको कुछ ऐसे ही आसान उपाय बताने जा रहे हैं।

भगवान शिव की करें पूजा

राहु दोष निवारण के लिए भगवान शिव की पूजा करना बहुत फायदेमंद होता है। इसके लिए आप हर शनिवार और सोमवार के दिन पानी में काले तिल डालकर शिवलिंग पर जल जरूर चढ़ाएं। यदि आप ऐसा करते हैं तो इससे आपकी कुंडली में राहु दोष के प्रभाव को कम करने में मदद मिलती है।

श्री विष्णु की करें पूजा

किसी जातक की कुंडली में यदि राहु दोष होता है तो इसके निवारण के लिए आपको भगवान विष्णु का ध्यान करना चाहिए और हो सके तो वीरवार को उनके नाम के उपवास भी करने चाहिए। यदि आप ऐसा करते हैं तो इससे भी राहु दोष से निजात पाने में मदद मिलती है।

मंत्र का करें जाप

राहु दोष से मुक्ति पाने के लिए आपको रोजाना सुबह स्नान आदि करने के बाद राहु के मंत्र का 108 बार जाप करना चाहिए। राहु मंत्र- ऊँ रां राहवे नम: का रोजाना जाप करने से आपकी कुंडली में होने वाले राहु दोष के प्रभाव को कम करने में मदद मिलती है। लेकिन ध्यान रखें की ऐसा एक दिन नहीं बल्कि नियमित रूप से करना है।

काले कुत्ते को खिलाएं रोटी

किसी भी बुधवार को आरम्भ करके नियमित सात दिन तक काले कुत्ते को मीठी रोटी खिलाएं। ऐसा करने से भी आपको राहु दोष से मुक्ति पाने में मदद मिलती है।

कुश डालकर करें स्नान

राहु दोष निवारण के लिए आपको रोजाना पानी में कुश डालकर स्नान करना चाहिए यदि आप ऐसा करते हैं तो ऐसा करने से आपको जल्द से जल्द इस दोष से मुक्ति पाने में मदद मिलती है।

पीपल की करें पूजा

राहु शांति के लिए आपको पीपल की पूजा भी जरूर करनी चाहिए खासकर शनिवार के दिन आपको सुबह नहाधोकर पीपल में जल अर्पित करना चाहिए। फिर उसके बाद आपको शाम को पीपल के पास घी का दीपक जलाना चाहिए यदि आप ऐसा करते हैं तो ऐसा करने से आपको राहु दोष से मुक्ति पाने में मदद मिलती है।

इस रत्न को करें धारण

ऐसा माना जाता है की यदि आपकी कुंडली में कोई दोष हो तो आपको पंडित द्वारा कोई न कोई रत्न धारण करने की सलाह दी जा सकती है जिससे उस दोष के प्रभाव को कम करने या खत्म करने में मदद मिलती है। वैसे ही राहु दोष के बुरे प्रभाव से राहत के लिए आपको गोमेद रत्न धारण करने की सलाह दी जा सकती है। लेकिन ध्यान रखें की पंडित से अच्छे से पूछने के बाद ही आप इस रत्न को धारण करें।

जल में करें इन चीजों को प्रवाह

एक कपडे में नीला वस्त्र, काले तिल, कंबल, सूप, तेल से भरा ताम्रपत्र, लोहा, सप्त अनाज, अभ्रक, गोमेद, खड्ग आदि को बांधकर रात के समय जल में प्रवाहित कर दें। यदि आप ऐसा करते हैं तो ऐसा करने से भी आपके राहु की दशा को मजबूत होने में मदद मिलती है।

जमादार को करें दान

राहु शांति के लिए आपको जमादार को कपडे, फल, दाल, कम्बल, तेल या अन्य किसी भी सामान का दान करना चाहिए। क्योंकि ऐसा माना जाता है की यदि आप जमादार को दान देते हैं तो इससे आपके राहु को शांत करने में मदद मिलती है।

दरिया में करें इन चीजों को प्रवाह

यदि आपका राहु कमजोर है तो आपको बहते पानी में नारियल का प्रवाह करना चाहिए ऐसा करने से आपकी कुंडली में होने वाले राहु दोष का निवारण करने में मदद मिलती है। इसके अलावा यदि आप खोटे सिक्कों का प्रवाह भी बेहतर पानी में करते हैं तो इससे भी राहु शांति में आपको मदद मिलती है।

काले पत्थर का करें उपाय

यदि आपका राहु कमजोर है, आपकी कुंडली में राहु दोष है तो शनिवार के दिन एक काला पत्थर लें। उसके बाद इस पत्थर को तेल में डुबोएं फिर इस पत्थर को निकालकर अपने ऊपर से सात बार वार लें। ऐसा करने के बाद इसे आग में डाल दें फिर इसे अच्छे से जलने दें और इसके ठंडा होने के बाद आप इसे कहीं दूर किसी कुँए में या बहती नदी आदि में प्रवाह कर दें। ऐसा करने से आपकी कुंडली में होने वाले राहु दोष को खत्म करने में मदद मिलती है।

कोढ़ियों की सेवन करें

राहु दोष की शांति के लिए आपको कोढ़ियों की सेवन करनी चाहिए यदि आप ऐसा करते हैं तो इससे आपको राहु के कारण आपको प्राप्त होने वाले अशुभ फल से मुक्ति मिलती है साथ ही इस दोष को शांत करने में भी मदद मिलती है।

कौए को मीठी रोटी खिलाएं

रोजाना सुबह एक मीठी रोटी बनाकर उसके छोटे छोटे टुकड़ें करें और कौए को खिलाएं ऐसा करने से भी आपको राहु दोष का निवारण करने में मदद मिलती है।

तो यह हैं कुछ उपाय जिनसे आपको राहु की बुरी दशा से बचने व् कुंडली में राहु की सही दशा को बरकरार रखने में मदद मिलती है। यदि आपकी कुंडली में भी राहु की दशा सही नहीं है तो आप भी ऊपर बताए गए टिप्स को फॉलो कर सकते हैं जिससे आपकी कुंडली में राहु की दशा को मजबूत होने में मदद मिल सकें।

Rahu Dosh Upay