Take a fresh look at your lifestyle.

सावन की सोमवारी करने से क्या क्या फायदे होते हैं और कैसे करें सोमवार व्रत

सावन की सोमवारी करने के फायदे हैं और कैसे करें सोमवार व्रत, सावन का व्रत 2018, सावन का व्रत, सोमवार व्रत विधि, सोमवार का व्रत रखने की विधि, सावन सोमवार रखने के फायदे, सावन सोमवार

सावन के महीने में भोलेबाबा की धूम हर जगह होती है। इस महीने में भोलेबाबा के भक्त उन्हें हर तरह से प्रसन्न करना चाहते है। कई लोग हरिद्वार से अपने घर तक पैदल भोलेबाबा के नामा की कावड़ लेकर आते है। साथ ही सावन के महीने में सोमवार व्रत का भी बहुत महत्व होता है। ऐसा कहा जाता है जो व्यक्ति कभी भी सोमवार के व्रत नहीं रखता है, और सावन में आने वाले सोमवार के व्रत करता है तो इससे उसे पूरे साल के सोमवार के व्रत का फल मिलता है।

और सावन में ऐसा माना जाता है की भोलेबाबा से आप कुछ भी पूरे विश्वास और श्रद्धा से मांगते है तो वो आपकी सभी इच्छाओ को पूरी करते है। जैसे की कुँवारी लडकियां अच्छे वर के लिए, कोई अपने घर में शांति बनाने के लिए, कोई अच्छे काम की शुरुआत के लिए तो कोई तरक्की के लिए, आदि। भगवन भोलेबाबा के सवार के व्रत रखता है। तो आइये अब जानते हैं की सावन के सोमवार किस प्रकार रखे जाते है और इसे रखने से आपको कौन कौन से फायदे होते है।

सावन सोमवार व्रत विधि:-

  • सबसे पहले सुबह समय से उठकर घर को साफ़ करके, नहा धोकर साफ़ और स्वच्छ वस्त्र धारण करने चाहिए।
  • उसके बाद सारे घर में गंगाजल को छिड़ककर शुद्ध करना चाहिए।
  • और फिर घर के ईशान कोण में भगवान् शिव की मूर्ति या चित्र की स्थापना करनी चाहिए।
  • और उसके बाद मूर्ति के सामने बैठकर सावन सोमवार व्रत का संकल्प लेना चाहिए।
  • साथ ही पूजन सामग्री में जल, दही, चीनी, घी, दूध, शहद से बना पंचामृत, मोली, वस्त्र, जनेऊ, चन्दन, रोली, चावल, फूल, बेल पत्र, भांग, धतूरा, कमल,गट्ठा, प्रसाद, पान-सुपारी, लौंग, इलायची, मेवा, आदि रखना चाहिए, और पूजा के बाद उसे दक्षिणा के रूप में देना चाहिए।
  • सामग्री चढ़ाने के बाद सावन के सोमवार की कथा करने से पहले धूप, और दिया जलाना चाहिए, फिर कथा करनी चाहिए।
  • और पूजा करते समय माता पारवती, गणेश जी, कार्तिकेय की भी आराधना करनी चाहिए।
  • उसके बाद आरती करते समय आपको कपूर का इस्तेमाल भी करना चाहिए।
  • आरती के बाद अपने मन की इच्छा और अपनी मनोकामना को पूरा करने के लिए सच्चे मन और पूरी श्रद्धा विश्वास के साथ भगवान् शिव के आगे हाथ जोड़कर प्रार्थना करनी चाहिए।
  • और उसके बाद भगवान् शिव को जल भी अर्पण करना चाहिए, इसके लिए आप मंदिर जा सकते है, या आपके घर में शिवलिंग है तो उसपर भी जल को अर्पण कर सकते है।
  • पूरा दिन व्रत करने के बाद शाम या रात को एक समय आपको भोजन करना चाहिए।

सावन के सोमवार रखने के फायदे:-

  • सावन का व्रत रखने से आपको शत्रु से बचाव करने में मदद मिलती है।
  • धर्म, अर्थ, काम, और मोक्ष की सिद्धि मिलती है।
  • यश की प्राप्ति होती है।
  • गृह दोष से शांति मिलती है।
  • अकाल मृत्यु के भय से मुक्ति मिलती है।
  • कार्य की सिद्धि मिलती है।
  • कुँवारी लड़की को मनचाहा वर मिलता है।
  • यदि कोई काम रुका हुआ हो उसे सफल करने में मदद मिलते है।

सावन महीना सोमवार व्रत 2018:-

2018 में सावन के महीने के व्रत 28 जुलाई से शुरु होंगे और 26 अगस्त को सावन का महीना खत्म हो जाएगा।

तो ये है कुछ फायदे जो सावन के सोमवार रखने से मिलते है, लेकिन आपको इन व्रत का भरपूर फल तभी मिलता है जब आप पूरी श्रद्धा और विश्वास के साथ इन व्रत को रखते है। तो सावन महीने की शुरुआत होने ही वाली है, तो यदि आप भी अपने मन की इच्छाओ को पूरा करना चाहते है तो आप भी सावन के सोमवार का व्रत रख सकते है। और आप चाहे तो सावन के सोमवार के बाद भी व्रत को को कर सकते है, और अपनी श्रद्धा अनुसार सोलह या इससे ज्यादा सोमवार करके उद्यापन कर सकते है।