Take a fresh look at your lifestyle.

शनि के उपाय : ये उपाय करेंगे तो शनि की परेशानी से मुक्त हो जाएंगे

शनि के उपाय

व्यक्ति के जीवन में घटित होने वाली प्रत्येक घटना कुंडली में मौजूद ग्रहों की स्थिति और नक्षत्रों के अनुसार होती है। जिस व्यक्ति की कुंडली में ग्रह अच्छी स्थिति में होते हैं वे शुभ फल प्रदान करते हैं। वहीं जिन लोगों की कुंडली में ग्रहों की स्थिति शुभ नहीं होती या ग्रह कमजोर होते हैं उनके जीवन में कई तरह की कठिनाइयां और परेशानियां आने लगती है। शनि भी उन्ही ग्रहों में से एक है जिसकी खराब स्थिति जीवन में कई परेशानियों का कारण बनती है।

कुंडली में शनि

शनि को खराब और कमजोर स्थिति व्यक्ति के जीवन में परेशानियां लाती हैं। इसके अलावा शनि की ढैय्या और साढ़े साती भी जीवन में दुःख और परेशानियां लाती है।

अगर किसी व्यक्ति को पैतृक संपत्ति की हानि हो रही है या वह हमेशा किसी न किसी बीमारी से ग्रस्त रहता है, मुकदमे के कारण परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है और बनते बनते सभी कार्य आखिर में बिगड़ रहे है तो समझ लें की कुंडली में शनि दोष है। यहाँ हम शनि के कुछ उपाय बता रहे हैं जिन्हे करके शनि की परेशानियों से मुक्ति पा सकते हैं।

शनि दोष से मुक्ति पाने के उपाय

शनिदेव को न्याय और कर्म का देवता कहा जाता है। इसलिए अगर शनि के प्रकोप से बचना है तो सतकर्मों के मार्ग पर चलना चाहिए। क्यूंकि कई बार जानें अनजाने की गयी गलतियों के कारन भी शनि दोष लग जाता है। इसीलिए सावधान रहें और अच्छे कार्य करें। शनि की पीड़ा से मुक्ति पाने के लिए निम्नलिखित उपाय करें –

पीपल के पेड़ की पूजा

शनिदेव को प्रसन्न करने के लिए पीपल के पेड़ को सबसे फलदायी माना जाता है। कहते हैं पीपल के पेड़ पर सभी देवताओं का वास होता है। शनि के प्रकोप से बचने के लिए शनिवार के दिन पीपल के पेड़ के नीचे काली बाती बनाकर सरसों के तेल का दीपक जलाएं, पीपल के पेड़ की जड़ों में जल दें और काली चींटियों को गुड़ दें। ऐसा करने से शनि दोष से छुटकारा मिलता है।

शमी वृक्ष की पूजा

शमी के पेड़ को शनि देव का प्रिय वृक्ष कहा जाता है। शमी के पेड़ का पूजन करने से भी शनि दोष से छुटकारा मिलता है। दोष दूर करने के लिए शनिवार के दिन संध्या के समय शमी के पेड़ के पास दीपक जलाएं। और शनि देव का ध्यान करें। जब तक परेशानियां खत्म न हो जाए ऐसा हर शनिवार करते रहें। जल्द ही समस्याएं खत्महो जाएंगी।

सरसों के तेल का उपाय

शनि दोष के कारण आने वाली परेशानियों से छुटकारा पाने के लिए तांबे के बर्तन में सरसों का तेल डालकर उसमे पहले अपना चेहरा देखें। उसके बाद किसी निर्धन व्यक्ति को दान कर दें। ऐसा करने से शनि प्रसन्न होंगे।

हनुमान जी की पूजा

भगवान हनुमान को शनिदेव का परममित्र कहा जाता है। कहते हैं, शनि कभी भी हनुमान भक्त पर अपनी कुदृष्टि नहीं डालते। शनि दोष से छुटकारा पाने के लिए शनिवार के दिन हनुमान जी की पूजा करने से भी लाभ मिलता है। इस दिन हनुमान चालीसा का पाठ करने से भी शनि प्रसन्न होते हैं।

गऊ माता की पूजा

शनि शांति के लिए शनिवार के दिन काली गाय की सेवा करें। गाय को चारा खिलाएं, रोटी खिलाएं, मस्तक पर सिंदूर लगाएं, पूजा करें। ये सब करने से शनि पीड़ा से मुक्ति मिलेगी।

अमावस्या का उपाय

शनिदेव को प्रसन्न करने के लिए अमावस्या की रात को 8 बादाम और 8 काजल की डिब्बी एक काले कपडे में बांधकर मंदिर के पास किसी संदूक में रख दें। ऐसा करने से शनि की ढैय्या और साढ़ेसाती का प्रभाव कम होता है।

शनि अमावस्या का पूजन

शनि दोष के मुक्ति पाने के लिए शनि अमावस्या के दिन पीपल के पेड़ की खास पूजा करें। इस दिन पीपल के पेड़ पर सात प्रकार के अनाज अर्पित करें और पूजन के बाद गरीबों में बाँट दें। ऐसा करने से शनि प्रसन्न होंगे।

काले कुत्ते का उपाय

शनि दोष से छुटकारा पाने के लिए शनिवार के दिन काले कुत्ते को चुपड़ी हुई रोटी खिलाए। रोटी खिलाने के लिए उसे द्वार पर नहीं बुलाएं अपितु खुद ही उसके पास जाकर सड़क पर रोटी खिलाएं। आप कुत्ते को दूध भी पिला सकते हैं। इससे भी शनि शांत होते हैं।

इन बातों का खास ध्यान रखें

आप पर सदा शनि की सकारात्मक दृष्टि बनी रहे और जीवन में परेशानियां न आए इसके लिए निम्न बातों का ध्यान रखना भी आवश्यक हैं। क्यूंकि ये कुछ सामान्य गलतियां है जो लोग अक्सर करते हैं। और ये कार्य शनि के प्रकोप को और बढ़ा सकते हैं। इसीलिए –

  • शनिवार के दिन सिर और शरीर पर कोई तेल ना लगाएं।
  • शनिवार को शराब और मांसाहार से परहेज करें।
  • इस दिन दाढ़ी, मूँछ और बाल आदि नहीं कटवाने चाहिए।
  • शनिवार के दिन लोहे की वस्तुएं नहीं खरीदनी चाहिए।
  • इस दिन किसी भी प्रकार का ईंधन जैसे लकड़ी, कोयला, मिट्टी का तेल आदि नहीं खरीदना चाहिए।
  • शनिवार के दिन नाख़ून और बाल नहीं काटें।