शिवरात्रि पर इन मंत्रों से शिव को खुश करें

0

Shiv Puja ke mantra, Shiv ko prasnn karne ke mantra, Shivratri par shivpuja ke mantra, महाशिवरात्रि पर इन मंत्रों से करें महादेव का पूजन, महाशिवरात्रि पूजा मंत्र, शिवरात्रि पर इन मंत्रों से शिव को प्रसन्न करें, Shivratri Puja Mantra, Maha Shivratri Shiv Puja Mantra


फाल्गुन माह के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी को मनाई जाने वाली महाशिवरात्रि शिव भक्तों के लिए बहुत ख़ास है। यूँ तो हर महीने के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी को शिवरात्रि मनाई जाती है लेकिन उन सभी में फाल्गुन माह की शिवरात्रि बहुत खास होती है। इसलिए इससे महाशिवरात्रि कहा जाता है।

महाशिवरात्रि 2019

2019 में महाशिवरात्रि 4 मार्च 2019 सोमवार को पड़ रही है। सोमवार भगवान शिव की आराधना का दिन होता है उसपर महाशिवरात्रि का योग इसे और भी महत्वपूर्ण बना रहा है। इस साल महाशिवरात्रि का महत्व बहुत ख़ास है क्यूंकि महाशिवरात्रि सोमवार के दिन पड़ रही हैं। जो बहुत ही खास संयोग है।

भगवान शिव की आराधना

अगर भक्त पूरी श्रद्धा इ साथ महाशिवरात्रि के दिन भगवान भोलेनाथ की आराधना करें तो माना जाता है की भक्त की इच्छा जरूर पूरी होती है। शास्त्रों के अनुसार, भगवान शिव को प्रसन्न करना ज्यादा कठिन नहीं है। केवल मंत्रों के जाप से भी भगवान शिव को प्रसन्न कर सकते हैं। यहाँ हम आपको बता रहे हैं की महाशिवरात्रि के दिन किन मन्त्रों का जाप करें ताकि भगवान शिव प्रसन्न हो जाएं।

शिवरात्रि पर भगवान शिव को प्रसन्न करने के मंत्र

यहाँ हम कुछ मंत्र बता रहे हैं, जिनका शिवरात्रि के दिन जाप करके शिव जी से मनचाहा वरदान पा सकते हैं।

ॐ नमः शिवाय।

प्रौं ह्रीं ठः।

ऊर्ध्व भू फट्।

इं क्षं मं औं अं।

नमो नीलकण्ठाय।

ॐ ह्रीं ह्रौं नमः शिवाय।

ॐ पार्वतीपतये नमः।

ॐ नमो भगवते दक्षिणामूर्त्तये मह्यं मेधा प्रयच्छ स्वाहा।


महामृत्युंजय मंत्र – “ॐ त्रयम्बकं यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्धनम।
उर्वारुकमिव बन्धनान मृत्योर्मुक्षीय मामृतात।।”


मनचाहा वरदान पाने के लिए भगवान शिव के इस मंत्र का जाप करें – 

ॐ ऐं ह्रीं शिव गौरीमव ह्रीं ऐं ॐ

घर में सुख शांति लाने के लिए शिवरात्रि के दिन इस मंत्र का जाप करें –

ॐ ह्रीं नम: शिवाय ह्रीं ॐ

अगर किसी कन्या के विवाह में देरी हो रही हैं तो शिवरात्रि के दिन इन मंत्र का जाप करें –

हे गौरि शंकरार्धांगि यथा त्वं शंकरप्रिया


शिवरात्रि के दिन इन मंत्रों के साथ पूजन करने से भगवान शिव मनचाहा वरदान देंगे। मंत्र उच्चारण करते समय शिवलिंग पर जलाभिषेक जरूर करें, साथ में बेल पत्र और बेर भी चढ़ावे। माना जाता है भगवान शिव को बेल पत्र अतिप्रिय है। और बेलपत्र के साथ पूजा करने से भगवान शिव जल्दी प्रसन्न होते हैं।