सोमवार व्रत करने के क्या लाभ होते हैं और कैसे शुरू करें

1

सोमवार व्रत करने के क्या लाभ होते हैं और कैसे शुरू करें

यदि आप किसी भी व्रत को रखते हैं तो उससे पहले आपको इस बात का पता होना चाहिए की आप किस महीने, किस पक्ष, किस तिथि को व्रत की शुरुआत कर रहें हैं। क्योंकि व्रत की शुरुआत को शुक्ल पक्ष में शुरू करना उत्तम माना जाता है। ऐसे ही सोमवार व्रत की शुरुआत भी आपको शुक्ल पक्ष के किसी भी सोमवार से करनी चाहिए। सोमवार का व्रत भोलेबाबा के लिए किया जाता है, भोलेबाबा, देवो के देव, शिव शंकर, जाने कितने ही नाम से इन्हे जाना जाता है। और यदि कोई भी भक्त पूरे मन और आस्था से व्रत करके भोलेबाबा को प्रसन्न करता है तो वह उनके मन की इच्छा को जरूर पूरा करते है।

तो आज हम आपको सोमवार व्रत करने से आपको कौन कौन से लाभ होते है, और इस व्रत को कब शुरू करना चाहिए इस बारे में बताने जा रहें हैं। सोमवार व्रत रखने पर भोलेबाबा के साथ गौरी मैय्या, गणेश जी, कार्तिकेय की भी पूजा आराधना की जाती है। इस व्रत को यदि आप पूरे मन और पूरी श्रद्धा के साथ करते हैं तो आपके मन की सभी इच्छाओं को पूरा होने में मदद मिलती है। क्योंकि यदि आप व्रत रखते है और किसी से झगड़ा करते हैं, चुगली करते हैं, मन में कपट रखते हैं, तो इस व्रत को रखने का कोई फायदा नहीं होता है। तो आइये अब जानते हैं इस व्रत के लाभ और इस व्रत को कब शुरू करना चाहिए।

सोमवार व्रत कब शुरू करें

सोमवार व्रत की शुरुआत आपको श्रावण, चैत्र, वैशाख, कार्तिक या मार्गशीर्ष के महीने में शुक्ल पक्ष के पहले सोमवार से ही करना चाहिए। इस व्रत को आप अपनी इच्छा अनुसार कर सकते है आप चाहे तो ग्यारह, इक्कीस, या खुले व्रत (अपनी इच्छा अनुसार जितने करना चाहे) या फिर सोलह सोमवार भी रख सकते हैं। चैत्र, शुक्लाष्टमी तिथि, आर्द्र नक्षत्र, या श्रावण मास के पहले सोमवार को व्रत की शुरुआत करने का विशेष महत्त्व होता है। तो यदि आप भी सोमवार का व्रत रखना चाहते हैं तो आप भी शुक्ल पक्ष के किसी भी सोमवार से व्रत की शुरुआत कर सकते है, और जब व्रत पूरे हो जाते हैं तो आपको उद्यापन भी करना चाहिए।

सोमवार व्रत कैसे शुरू करें

सोमवार का व्रत जब आप शुरू करते हैं उस दिन सुबह समय से उठकर आपको नहा लेना चाहिए, और हो सके तो पानी में काले तिल डालकर स्नान करना चाहिए क्योंकि ऐसा करना शुभ माना जाता हैं। और उसके बाद सोमवार व्रत के लिए आटे को भून कर और उसमे चीनी या भूरा को मिलाकर प्रसाद बनाना चाहिए और उसमे केला या अन्य किसी फल को काटकर मिलाना चाहिए। फिर सोमवार की कथा करनी चाहिए आप इसे घर या मंदिर में जाकर कर सकती है। उसके बाद भोलेबाबा का जलाभिषेक करना चाहिए व् फूल, फल आदि उन्हें समर्पित करना चाहिए और हाथ जोड़कर अपने मन की इच्छा को पूरा करने के लिए प्रार्थना करनी चाहिए। उसके बाद सूर्यास्त से पहले भोजन व् फलाहार लेना चाहिए, ऐसा आप जितने व्रत रखना चाहते हैं उतने सोमवार तक करें और उसके बाद व्रत का उद्यापन करना चाहिए।

सोमवार व्रत लाभ

देवो के देव महादेव अपने भक्तों की इच्छा को जरूर पूरा करते है, ऐसे में जो भक्त पूरी निष्ठा और आस्था के साथ सोमवार के व्रत करता है उसे मनचाहा फल मिलता है। तो आइये अब जानते हैं की सोमवार व्रत रखने से क्या क्या लाभ होते हैं।

मनचाहा वर मिलता है

पुराने समय से ही कुँवारी लडकियां मनचाहा वर पाने के लिए इस व्रत को करती है। तो भोलेबाबा उनकी इस मुराद को पूरा करते हैं जो पूरे मन से इस व्रत को करते हैं और उन्हें मनचाहा वर पाने का वर देते हैं।

दाम्पत्य जीवन

सुखी वैवाहिक जीवन के लिए भी इस व्रत को किया जाता है, शादीशुदा महिलाएं इस व्रत को अपने वैवाहिक जीवन में आने वाली सभी बाधाओं को दूर करने के लिए करती हैं। और यदि पति और पत्नी के बीच कलेश रहता है तो आपको उस समस्या से निजात पाने में भी मदद मिलती है।

लम्बी उम्र और धन यश की प्राप्ति

सोमवार का व्रत रखने से आयु भी लम्बी होती है और व्यक्ति को निरोगी रहने में मदद मिलती है। साथ ही इस व्रत को करने से व्यक्ति को धन यश की प्राप्ति भी होती है, जिससे उसके जीवन को सुख समृद्धि से भरपूर रखने में मदद मिलती है।

शत्रुओं का नाश

भोलेबाबा अपने भक्तो की रक्षा के लिए हमेशा तैयार रहते हैं, ऐसे में इस व्रत को करने से आपको शत्रुओं को आपसे दूर रखने में मदद मिलती है।

शनि के प्रकोप को करते हैं शांत

आपने यह तो सुना ही होगा की शनि के टेढ़ी नज़र यदि किसी पर पड़ती है तो उस व्यक्ति पर कहर बरस जाता है। लेकिन यदि आप इससे हमेशा सुरक्षित रहना चाहते हैं तो भी सोमवार के व्रत बहुत ही फलदायी होते हैं।

सुख समृद्धि के लिए

हर कोई चाहता है की उसके घर में हमेशा सुख समृद्धि बनी रहे और उसे हमेशा तरक्की मिलें और उसके घर में हमेशा खुशियां बनी रहें। तो इस व्रत को करने से भी आपको अपने घर में सुख समृद्धि को बनाएं रखने में मदद मिलती है।

मनचाहा वरदान मिलता है

आपके मन की किसी भी इच्छा को पूरा करने के लिए यह व्रत बहुत ही फलदायी होता है क्योंकि भोलेबाबा केवल आपके साफ़ मन को देखते हैं। यदि आप पूरे साफ़ मन से, आस्था से, सोमवार का व्रत करते हैं तो आपके ऊपर हमेशा शिव शंकर की कृपा बनी रहती है। और आपके मन की किसी भी इच्छा को पूरा होने में मदद मिलती है।

सोमवार व्रत रखने के अन्य लाभ

सोमवार व्रत करने से व्यक्ति को मानसिक रूप से शांति मिलती है, जिसके कारण उसकी एकाग्रता बढ़ती है। सामाजिक प्रतिष्ठा, आर्थिक लाभ, पारिवारिक शांति, वैवाहिक सुख, संतान लाभ, स्वास्थ्य से सम्बन्धी लाभ, कार्य में सफलता और हमेशा उन्नति की प्राप्ति होती है। इससे अहंकार का खात्मा होता है और व्यक्ति को प्रेम से सम्पूर्ण होने में मदद मिलती है।

तो सोमवार का व्रत करने से आपको देवो के देव महादेव आपकी हर इच्छा को पूरा करते हैं। और आपके भाग्य को उदय करते है, और हमेशा कष्टों को आपसे दूर रखने में मदद करते हैं। सोमवार का व्रत रखने से आपके सभी दुःखो को दूर करने के साथ सुखों की प्राप्ति होती है।