Muhurat Panchang and Festivals

2021 में सूर्य ग्रहण कब है?

0

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार साल 2021 में दो सूर्य ग्रहण और दो चंद्र ग्रहण लगेंगे। सूर्य ग्रहण एक खगोलीय घटना होती है जिसमे सूर्य और पृथ्वी के बीच में चन्द्रमा आ जाता है जिस कारण सूर्य का बिम्ब चन्द्रमा के पीछे छुप जाता है। पंचांग के अनुसार पहले सूर्य ग्रहण जून के महीने में लग चूका है और अब दूसरा सूर्य ग्रहण दिसंबर के महीने में लगेगा। इसके अलावा कई बार ऐसा भी होता है की कहीं पर सूर्य ग्रहण पूर्ण रूप से लगता है तो कहीं पर आंशिक रूप से लगता है।

जहां पर सूर्य ग्रहण पूर्ण रूप से लगता है वहां पर कुछ कामों को करना वर्जित माना जाता है वहीँ जहां आंशिक रूप से सूर्य ग्रहण लगता है या केवल सूर्य ग्रहण की थोड़ी छाया पड़ती है वहां सूर्य ग्रहण का उतना प्रभाव नहीं पड़ता है। तो आइये अब इस आर्टिकल में साल 2021 में लगने वाले सूर्य ग्रहण के बारे में विस्तार से जानते हैं।

2021 में सूर्य ग्रहण कब लगेगा?

साल 2021 में दूसरा सूर्य ग्रहण 04 दिसंबर 2021 को लगेगा। यह सूर्य ग्रहण भी पूर्ण रूप से भारत में नहीं लगेगा यानी की इसका प्रभाव उतना नहीं होगा।

सूर्य ग्रहण के दौरान क्या मान्यता होती हैं?

सूर्य ग्रहण बेशक एक खगोलीय घटना होती है लेकिन सूर्य ग्रहण का धार्मिक पहलु भी भारत में देखने को मिलता है। सूर्य ग्रहण लगने से बारह घंटे पहले ही सूतक का प्रभाव शुरू हो जाता है। इस दौरान किसी भी शुभ काम को करना वर्जित माना जाता है। साथ ही ग्रहण लगने पर मंदिर के कपाट भी बंद कर दिए जाते हैं। और ग्रहण लगने के बाद गंगाजल छिड़कने के बाद ही इन्हे खोला जाता है।

ग्रहण के दौरान खाना पीना भी मना होता है खासकर गर्भवती महिला के लिए इस दौरान बहुत ज्यादा सावधानी व् नियमों का पालन करने के बारे में बताया जाता है। इस दौरान घर में खाने पीने के सामान में तुलसी के पत्ते डालकर रखे जाते हैं। इसके अलावा ग्रहण समाप्त होने पर भी घर का शुद्धिकरण करने के लिए घर में भी गंगाजल का छिड़काव करना चाहिए।

तो यह है सूर्य ग्रहण से जुडी जानकारी, साल 2021 में भी ग्रहण के प्रभाव से बचे रहने के लिए आपको भी ग्रहण के सही समय के बारे में जानकारी जरूर होनी चाहिए।

Surya Grahan 2021

Leave a comment