Ultimate magazine theme for WordPress.

यात्रा मुहूर्त 2018 : यात्रा के शुभ मुहूर्त 2018 के लिए

किसी महत्वपूर्ण उद्देश्य के लिए दूर यात्रा पर जाना हो तो हमेशा मुहूर्त देखकर ही यात्रा पर जाना चाहिए। इससे उस कार्य में सफलता मिलती है और उस यात्रा से हानि नहीं होती। यहाँ हम आपको 2018 के लिए यात्रा मुहूर्त दे रहे हैं। 

यात्रा मुहूर्त 2018

यात्रा मुहूर्त 2018, यात्रा के शुभ मुहूर्त, यात्रा का उत्तम समय कब है, किस समय यात्रा करें, यात्रा के शुभ मुहूर्त 2018, यात्रा का मुहूर्त कैसे निकालें, यात्रा मुहूर्त, कैसे निकालें यात्रा मुहूर्त, यात्रा का समय 2018, शुभ समय यात्रा के लिए 2018 में, Yatra Muhurat 2018, Yatra Shubh Muhurat, Auspicious Time for Travelling, Travel Shubh Muhurat 2018

कोई भी यात्रा अगर शुभ मुहूर्त में की जाए तो बहुत ही लाभकदायक होती है और उस यात्रा में किसी हानि की संभावना नहीं रहती है। ज्योतिषाचार्यों के अनुसार, यात्रा पर जाने से पहले मुहूर्त विचार कर लेना चाहिए। इसलिए हमेशा शुभ मुहूर्त में ही यात्रा करनी चाहिए।

जानकारों का कहना है, यदि किसी विशेष कार्य के लिए चाहे वो किसी तीर्थ स्थान पर जाने का हो या शादी विवाह के लिए कहीं दूर रिश्ते तय करने जाना हो या किसी महत्वपूर्ण उद्देश्य के लिए दूर यात्रा पर जाना हो तो हमेशा मुहूर्त देखकर ही यात्रा पर जाना चाहिए। इससे उस कार्य में सफलता मिलती है और उस यात्रा से हानि नहीं होती। यहाँ हम आपको 2018 के लिए यात्रा मुहूर्त दे रहे हैं।

यात्रा मुहूर्त जानने से पूर्व यात्रा मुहूर्त के नियम जानना आवश्यक है। ज्योतिष आचार्यों के अनुसार, यात्रा के लिए जब मुहूर्त देखा जाता है तब मुख्य रूप से यह देखा जाता है की यात्रा का मुख्य उद्देश्य क्या है, यात्रा की दुरी कितनी है या यात्रा किस प्रयोजन से की जा रही है? दैनिक और रोजमर्रा की यात्रा के लिए मुहूर्त विचार करना आवश्यक नहीं है। यात्रा के लिए वारशूल, नक्षत्रशूल, दिक्शूल, चन्द्रवास और राशि से चंद्रमा का विचार करना आवश्यक है। कहा भी गया है –

“दिशाशूल ले आओ वामें राहु योगिनी पीठ,
सम्मुख लेवे चन्द्रमा, लावे लक्ष्मी लूट”


यात्रा मुहूर्त कैसे निकालें?

नक्षत्र

अश्विनी, पुनर्वसु, अनुराधा, मृगशिरा, पुष्य, रेवती, हस्त, श्रवण, धनिष्ठा उत्तम माने जाते है।

रोहिणी, उत्तराषाढ़, उत्तराभाद्रपद, उत्तराफाल्गुनी, पूर्वाषाढ़, पूर्वाभाद्रपद, पूर्वाफाल्गुनी, ज्येष्ठा, मूल, शतभिषा मध्यम माने जाते हैं।

भरणी, कृतिका, आर्द्रा, अश्लेषा, मघा, चित्रा, स्वाति, विशाखा अशुभ माने जाते हैं। 

तिथि द्वितीया, तृतीया, पंचमी, सप्तमी, दशमी, एकादशी और त्रयोदशी तिथि शुभ मानी जाती हैं।

यात्रा मुहूर्त के नियम में पंचांग विचार

किन नक्षत्रों में कौन सी दिशा की यात्रा नहीं करनी चाहिए? (नक्षत्रशूल )
  • ज्येष्ठा नक्षत्र में पूर्व दिशा की यात्रा नहीं करनी चाहिए।
  • पूर्वाभाद्रपद नक्षत्र में दक्षिण दिशा की ओर यात्रा नहीं करनी चाहिए।
  • रोहिणी नक्षत्र में पश्चिम की यात्रा शुभ नहीं मानी जाती।
  • उत्तराफाल्गुनी नक्षत्र में उत्तर दिशा की ओर नहीं जाना चाहिए।
किस वार को कौन सी दिशा में यात्रा नहीं करनी चाहिए? (वारशूल)
  • सोमवार और शनिवार को पूर्व दिशा की यात्रा नहीं करनी चाहिए।
  • गुरुवार को दक्षिण दिशा की यात्रा अशुभ फल देती है।
  • शुक्रवार को पश्चिम दिशा की यात्रा नहीं करनी चाहिए।
  • मंगलवार और बुधवार को उत्तर दिशा को नहीं जाना चाहिए।

यात्रा मुहूर्त 2018 : यात्रा के लिए शुभ मुहूर्त 2018 में

अगस्त 2018 यात्रा मुहूर्त

तारीख दिन नक्षत्र तिथि दिशा
14 अगस्त 2018 मंगलवार हस्त तृतीया उत्तर से अलग
15 अगस्त 2018 बुधवार हस्त पंचमी उत्तरोत्तर
24 अगस्त 2018 शुक्रवार श्रवण त्रयोदशी पूर्व, दक्षिण
30 अगस्त 2018 गुरुवार रेवती, आश्विनी चतुर्थी पश्चिम, उत्तर, दक्षिणोत्तर
31 अगस्त 2018 शुक्रवार अश्विनी पंचमी पश्चिमोत्तर

सितंबर 2018 यात्रा मुहूर्त

तारीख दिन नक्षत्र तिथि दिशा
4 सितंबर 2018 मंगलवार मृगशिरा नवमी पश्चिम, दक्षिण
6 सितंबर 2018 गुरुवार पुनर्वसु एकादशी पश्चिम, पश्चिम-उत्तर
7 सितंबर 2018 शुक्रवार पुष्य द्वादशी पश्चिम से अलग
11 सितंबर 2018 मंगलवार हस्त द्वितीया उत्तरोत्तर
15 सितंबर 2018 शनिवार अनुराधा षष्ठी पूर्वोत्तर
20 सितंबर 2018 गुरुवार श्रवण एकादशी पूर्व
21 सितंबर 2018 शुक्रवार धनिष्ठा द्वादशी पूर्व, दक्षिण
22 सितंबर 2018 शनिवार धनिष्ठा त्रयोदशी पश्चिम
26 सितंबर 2018 बुधवार रेवती, अश्विनी प्रतिपदा पूर्व-पश्चिम, उत्तर से अलग
27 सितंबर 2018 गुरुवार अश्विनी द्वितीया दक्षिण से अलग
29 सितंबर 2018 शनिवार रोहिणी चतुर्थी दक्षिण
30 सितंबर 2018 रविवार रोहिणी पंचमी पूर्व, दक्षिण

अक्टूबर 2018 यात्रा मुहूर्त

तारीख दिन नक्षत्र तिथि दिशा
1 अक्टूबर 2018 सोमवार मृगशिरा सप्तमी पश्चिम, दक्षिण
3 अक्टूबर 2018 बुधवार पुष्य नवमी उत्तरोत्तर
4 अक्टूबर 2018 गुरुवार पुष्य दशमी दक्षिणोत्तर
13 अक्टूबर 2018 शनिवार अनुराधा पंचमी पूर्व से अलग
18 अक्टूबर 2018 गुरुवार श्रवण नवमी पूर्व
19 अक्टूबर 2018 शुक्रवार धनिष्ठा दशमी पूर्व, दक्षिण
25 अक्टूबर 2018 गुरुवार अश्विनी प्रतिपदा दक्षिणेतर
27 अक्टूबर 2018 शनिवार रोहिणी तृतीया दक्षिण
28 अक्टूबर 2018 रविवार मृगशिरा चतुर्थी पूर्व, दक्षिण
30 अक्टूबर 2018 मंगलवार पुनर्वसु, पुष्य षष्ठी पश्चिम, दक्षिण, उत्तरेतर
31 अक्टूबर 2018 बुधवार पुष्य सप्तमी उत्तर से अलग

नवंबर 2018 यात्रा मुहूर्त

तारीख दिन नक्षत्र तिथि दिशा
4 नवंबर 2018 रविवार हस्त द्वादशी पश्चिमोत्तर
5 नवंबर 2018 सोमवार हस्त त्रयोदशी पूर्वोत्तर
9 नवंबर 2018 शुक्रवार अनुराधा द्वितीया पश्चिमोत्तर
14 नवंबर 2018 बुधवार श्रवण सप्तमी पूर्व-दक्षिण
15 नवंबर 2018 गुरुवार श्रवण सप्तमी पूर्व
20 नवंबर 2018 मंगलवार रेवती द्वादशी पश्चिम
24 नवंबर 2018 शनिवार रोहिणी, मृगशिरा प्रतिपदा दक्षिण, पश्चिम
25 नवंबर 2018 रविवार मृगशिरा द्वितीया दक्षिण
26 नवंबर 2018 सोमवार पुनर्वसु चतुर्थी पश्चिम-दक्षिण
27 नवंबर 2018 मंगलवार पुनर्वसु पंचमी पश्चिम, उत्तरोत्तर

दिसंबर 2018 यात्रा मुहूर्त

तारीख दिन नक्षत्र तिथि दिशा
1 दिसंबर 2018 शनिवार हस्त नवमी पूर्वोत्तर
2 दिसंबर 2018 रविवार हस्त दशमी पश्चिमोत्तर
11 दिसंबर 2018 मंगलवार श्रवण चतुर्थी पूर्व, दक्षिण
12 दिसंबर 2018 बुधवार श्रवण पंचमी पूर्व, दक्षिण
17 दिसंबर 2018 सोमवार रेवती, अश्विनी नवमी पश्चिम, उत्तर, पूर्व से अलग
18 दिसंबर 2018 मंगलवार अश्विनी दशमी उत्तरोत्तर
24 दिसंबर 2018 सोमवार पुनर्वसु, पुष्य द्वितीया पश्चिम, पश्चिम-उत्तर, पूर्वोत्तर