फरवरी 2022, पूर्णिमा अमावस्या एकादशी प्रदोष व्रत समेत अन्य व्रत त्यौहार

0

February 2022 Vrat Tyohar : February 2022 Purnima, February 2022 Amavasya, February 2022 Sankashti Chaturthi, Pradosh Vrat February 22, Kumbh Sankrati 2022 February Month Festivals and Calendar.

फरवरी 2022 में कुछ महत्वपूर्ण व्रत त्यौहार और तिथियां हिन्दू पंचांग के अनुसार, जानिए कब है पूर्णिमा फरवरी २०२२ में, अमावस्या फरवरी २०२२ में, संकष्टी चतुर्थी और प्रदोष व्रत की तिथि या तारीख फरवरी माघ महीने के।

वसंत पंचमी फरवरी 2022

बसंत पंचमी का पर्व फरवरी माह का महत्वपूर्ण पर्व है। सरस्वती देवी की पूजा और व्रत होगा जो 5 फरारती 2022 को मनाया जायेगा। ये माघ मास की शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को मनाया जाता है। इस दिन ज्ञान की देवी मां सरस्वती की विशेष पूजा की जाती है और व्रत रखा जाता है।

जया एकादशी फरवरी 2022

फरवरी महीने में जया एकादशी व्रत 12 फरवरी 2022 को मनाया जायेगा। एकादशी व्रत को सभी व्रतों में श्रेष्ठ माना गया है. माघ मास की शुक्ल पक्ष की एकादशी को जया एकादशी कहा जाता है। इस दिन भगवान विष्णु की पूजा की जाती है। इस एकादशी व्रत को रखने से जीवन में सुख-समृद्धि आती है।

प्रदोष व्रत (शुक्लपक्ष) फरवरी 2022

फरवरी 2022 में प्रदोष व्रत की तिथि 13 फरवरी 2022 है। प्रदोष व्रत भगवान शिव को समर्पित है। भगवान् भोलेनाथ के लिए किया जाता है। इस व्रत की ये मान्यता है है की जो मनुष्य इस दिन भगवान शिव के साथ माता पार्वती की पूजा करेंगे उनकी सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं। जीवन में आने वाली परेशानियां दूर होती हैं। जीवन खुशहाल होता है।

कुंभ संक्रांति फरवरी 2022

फरवरी महीने में इस समय सूर्य मकर राशि में विराजमान है। और जब सूर्य एक राशि से दूसरी राशि में प्रवेश करते हैं तो इसे संक्रांति कहा जाता है। कुंभ संक्रांति 13 फरवरी को है। पंचांग के अनुसार 13 फरवरी को सूर्य मकर राशि से निकल कर कुंभ राशि में गोचर करेंगे। यह संक्रांति धार्मिक दृष्टि से महत्वपूर्ण मानी जाती है। इस दिन गंगा, यमुना, सरोवर, और और अन्य पुण्य नदियों सरोवर तालाव में स्नान और दान का विशेष महत्व बताया गया है। पाप कष्ट से मुक्ति मिलती है। जीवन खुशहाल होता है।

माघ पूर्णिमा व्रत फरवरी 2022

इस महीने यानी फरवरी 2022 में माघ पूर्णिमा 16 फरवरी, 2022 को है। माघ मास की शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि को माघी पूर्णिमा या माघ पूर्णिमा कहा जाता है। पुराणों और धार्मिक मान्यता है कि इस दिन देवता पृथ्वी पर आते हैं। माघ पूर्णिमा में स्नान और दान का विशेष महत्व बताया गया है।

सत्यनारायण व्रत कथा और पूजा

फरवरी 2022 में सत्यनाराण व्रत और कथा की तिथि है माघ पूर्णिमा जो 16 फरवरी 2022 को है। सत्यनारायण व्रत कथा से घर में खुशियां और शांति आती है।

संकष्टी चतुर्थी फरवरी 2022

फरवरी महीने में संकष्टी चतुर्थी 20 फरवरी 2022 को होगा। संकष्टी चतुर्थी का पर्व फाल्गुन मास की कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि को मनाया जाता है। इस दिन विघ्नहर्ता भगवान गणेश की विशेष पूजा अर्चना की जाती है। इस दिन हस्त नक्षत्र रहेगा और चंद्रमा कन्या राशि में विराजमान रहेगा। संकष्टी चतुर्थी का व्रत करने से इनके अलग अलग फायदे मिलते हैं। जीवन में खुशियां आती है। हरेक काम में विलम्ब नहीं होता है। सफलता मिलती है।

विजया एकादशी फरवरी 2022

विजय एकदशी 27 फरवरी 2022 को होगा। विजया एकादशी फाल्गुन मास की कृष्ण पक्ष तिथि को मनाया जाता है और एकादशी का व्रत रखा जाता है। विजया एकादशी का व्रत भगवान विष्णु को समर्पित है।

प्रदोष व्रत (कृष्णपक्ष) फरवरी 2022

प्रदोष व्रत त्रयोदशी की तिथि को रखा जाता है। प्रदोष व्रत 28 फरवरी 2022 को है। प्रदोष व्रत शिव भक्तों का प्रिय व्रत है। प्रदोष व्रत के दिन भगवान भोलेनाथ, माता पर्वती की विशेष पूजा की जाती है। फाल्गुन मास में भगवान शिव की पूजा का विशेष महत्व बताया गया है।

फरवरी 2022 का पर्व त्यौहार की जानकारियां

जया एकादशी फरवरी 2022 में में कब है?

फरवरी महीने में जया एकादशी व्रत 12 फरवरी 2022 को मनाया जायेगा।

प्रदोष व्रत (शुक्लपक्ष) फरवरी 2022 कब है?

फरवरी 2022 में प्रदोष व्रत की तिथि 13 फरवरी 2022 है।

कुंभ संक्रांति फरवरी 2022 कब है?

जब सूर्य एक राशि से दूसरी राशि में प्रवेश करते हैं तो इसे संक्रांति कहा जाता है। कुंभ संक्रांति 13 फरवरी 2022 को है।

माघ पूर्णिमा व्रत फरवरी 2022 में कब है?

इस महीने यानी फरवरी 2022 में माघ पूर्णिमा 16 फरवरी, 2022 को है

संकष्टी चतुर्थी फरवरी 2022 कब है? और कब मनाया जाता है?

फरवरी महीने में संकष्टी चतुर्थी 20 फरवरी 2022 को होगा। संकष्टी चतुर्थी का पर्व फाल्गुन मास की कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि को मनाया जाता है।

विजया एकादशी फरवरी 2022 में कब है?

विजय एकदशी 27 फरवरी 2022 को होगा। विजया एकादशी फाल्गुन मास की कृष्ण पक्ष तिथि को मनाया जाता है और एकादशी का व्रत रखा जाता है। विजया एकादशी का व्रत भगवान विष्णु को समर्पित है।

प्रदोष व्रत (कृष्णपक्ष) फरवरी 2022 में कब है?

प्रदोष व्रत 28 फरवरी 2022 को है। प्रदोष व्रत शिव भक्तों का प्रिय व्रत है। प्रदोष व्रत के दिन भगवान भोलेनाथ, माता पर्वती की विशेष पूजा की जाती है।

Leave a comment