होली पूजा कैसे करते हैं? होली पूजा मुहूर्त 2022

0

होली साल की शुरुआत में पड़ने वाला सबसे पहले बड़ा त्यौहार होता है और बसंत माह लगने के साथ ही इस त्यौहार का सभी बेसब्री से इंतज़ार करते हैं। क्योंकि इस दिन लोग अपने दिलों में खट्टास को दूर करके प्यार से भरे रंगों को शामिल करते हैं। साथ ही रंगो का यह त्यौहार छोटे बड़े, बूढ़े सभी की पहली पसंद होता है।

होली का त्यौहार मनाने से एक दिन पहले होलिका दहन किया जाता है। जिसमे सभी बुराइयों को जला कर राख करके आने वाले समय में खुशहाली बनी रहें, उम्र लम्बी को इसके लिए कामना की जाती है। आज इस आर्टिकल में हम आपको होली पूजा कैसे करते हैं और होली पूजा 2022 का शुभ मुहूर्त क्या है उसके बारे में बताने जा रहे हैं।

होलिका दहन की पूजा विधि

  • होलिका दहन के दिन पूजा से पहले शाम को स्‍नान करें।
  • उसके बाद होलिका पूजा वाले स्थान पर पूरब या उत्तर दिशा की ओर मुंह करके बैठ जाएं।
  • फिर आप वहां पर गाय के गोबर से बनी होलिका और प्रह्लाद की प्रतिमाएं रख दें।
  • उसके बाद पूजन के लिए फूलों की माला, रोली, गंध, पुष्प, कच्चा सूत, गुड़, साबुत हल्दी, मूंग, बताशे, गुलाल, नारियल, पांच या सात प्रकार के अनाज, नई गेहूं, साथ में एक लोटा जल आदि पूजा का सामान रख लें।
  • आप चाहे तो पकवान, मिठाईयां, फल आदि भी अर्पित कर सकते हैं।
  • होलिका और प्रह्लाद की पूजा के साथ ही भगवान नरसिंह की भी पूजा करें।
  • उसके बाद होलिका के चारों और सात बार परिक्रमा करें फिर हाथ जोड़कर खुशहाली की कामना करें।
  • यह सब करने के बाद चारों ओर से सूखी लकड़ी, उपलों का ढेर लगाकर होलिका दहन करें।
  • सावधानी का ध्यान रखें की आपको दहन के समय आग से कोई नुकसान नहीं हो।

होली पूजा का शुभ मुहूर्त

साल 2022 में 10 मार्च 2022 से होलाष्टक लगेंगे। साथ ही होलिका दहन होली से एक दिन पहले रात को किया जाता है। ऐसे में इस साल होलिका दहन का शुभ मुहूर्त 17 मार्च 2022, दिन गुरुवार की रात को किया जाएगा। ओर होलिका दहन का शुभ मुहूर्त रात 09:20 बजे से रात 10:31 बजे तक ही यानी कि करीब सवा घंटे तक ही रहेगा। ऐसे में आप समय का ध्यान रखें ओर शुभ मुहूर्त में होलिका दहन करें। वहीं होलिका दहन के अगले दिन यानी कि 18 मार्च 2022, दिन शुक्रवार को रंगों वाली होली यानी फाग खेली जाएगी।

तो यह है होलिका दहन का शुभ मुहूर्त व् पूजा विधि से जुडी जानकारी। तो यदि आप भी होलिका दहन करते हैं तो आप शुभ मुहूर्त का ध्यान रखें ओर समय से पूजा करें।

Holika dehan 2022 v holi puja karne ki vidhi

Leave a comment